Live TV
GO
Hindi News खेल क्रिकेट पाकिस्तानी गेंदबाजों की मदद से भारत...

पाकिस्तानी गेंदबाजों की मदद से भारत ऑस्ट्रेलिया के सामने खड़ा कर पाया 622 रनों का विशाल लक्ष्य

सिडनी में भारत अगर ऑस्ट्रेलिया पर मजबूत पकड़ बना पाया है तो वो सिर्फ पाकिस्तान के तेज गेंदबाजों की वजह से। जी हां, सही पढ़ा। भारत ने पहली पारी में ऑस्ट्रेलिया गेंदबाजों की पिटाई करते हुए 622 रनों का विशाल लक्ष्य खड़ा किया था। 

India TV Sports Desk
India TV Sports Desk 05 Jan 2019, 15:50:00 IST

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच जारी चौथे टेस्ट में भारत ने मेजबानों पर अपना पूरा शिकंजा कस लिया है। पहले भारत ने बल्लेबाजी करते हुए 7 विकेट के नुकसान पर 622 रन बनाए वहीं, इसके बाद भारत ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक ऑस्ट्रेलिया को 236 रन के स्कोर पर 6 झटके भी दिए।

भारत अब इस टेस्ट सीरीज में अपनी तीसरी जीत से कुछ कदम ही दूर है। अगर भारत यह मैच जीत जाता है या फिर यह मैच ड्रॉ भी रहता है तो 72 साल में पहली बार भारत ऑस्ट्रेलिया को उसकी सरजमीं पर पहली बार मात देगा।

सिडनी में भारत अगर ऑस्ट्रेलिया पर मजबूत पकड़ बना पाया है तो वो सिर्फ पाकिस्तान के तेज गेंदबाजों की वजह से। जी हां, सही पढ़ा। भारत ने पहली पारी में ऑस्ट्रेलिया गेंदबाजों की पिटाई करते हुए 622 रनों का विशाल लक्ष्य खड़ा किया था। ऐसा संभव सिर्फ पाकिस्तान के तेज गेंदबाजों की वजह से ही हो पाया। अब हम बताते हैं कैसे।

मैच से पहले भारत ने नेट्स में पाकिस्तान के तीन गेंदबाजों के साथ प्रैक्टिस की थी। ये तीनों गेंदबाज 145 से अधिक की गति से गेंद डालते थे। इन गेंदबाजों के साथ नेट्स में प्रैक्टिस करने का फायदा भारत को मैच के दौरान मिला।

हुआ यू कि भारत के बैटिंग कोच संजय बांगर ने ऑस्ट्रेलिया में क्रिकेट अकादमी चलाने वाले अपने एक दोस्त से नेट्स में प्रैक्टिस के लिए तीन गेंदबाजों की मदद मांगी। बांगर ने अपने दोस्त को साफ कर दिया था कि उन्हों 145 किमी से तेज गति वाले गेंदबाज चाहिए जिसकी मदद से भारत नेट्स में अपनी कमियों को दूर कर सके।

इन तीन गेंदबाजों के नाम सलमान इरशाद, हैरिस राउफ और अब्बास बलोच है। हैरिस और सलमान तो लगातार पाकिस्तान की घरेलू टी20 लीग पाकिस्तान सुपर लीग में खेलते। अब्बास की पैदाइश तो पाकिस्तान की है, लेकिन वह ऑस्ट्रेलिया में प्रोफेशनल क्रिकेट खेलते हैं।

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन