Live TV
GO
Hindi News खेल क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट मैच खेलने से...

ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट मैच खेलने से पहले नर्वस थे कुलदीप यादव, तीन विकेट लेने के बाद दिया बड़ा बयान

‘‘ईमानदारी से कहूं तो मैंने ऑस्ट्रेलिया में गेंदबाजी करने के लिये कुछ भी बदलाव नहीं किया है। मैं इस सीरीज में अपना पहला टेस्ट खेल रहा हूं इसलिये थोड़ा नर्वस था।’’

Bhasha
Bhasha 05 Jan 2019, 16:31:36 IST

सिडनी। ऑस्ट्रेलियाई सरजमीं पर अपने पहले टेस्ट में प्रभावित करने वाले भारतीय स्पिनर कुलदीप यादव ने कहा कि उन्हें टेस्ट गेंदबाज के रूप में सुधार करने के लिये और समय की जरूरत है। 24 वर्षीय बायें हाथ के कलाई स्पिनर ने तीन विकेट हासिल किये जिससे ऑस्ट्रेलियाई टीम चौथे टेस्ट के तीसरे दिन भारत के सात विकेट पर 622 रन की घोषित पहली पारी के जवाब में 236 रन पर छह विकेट गंवाकर जूझ रही थी।
 
लॉर्ड्स के बाद विदेशी सरजमीं पर अपना पहला टेस्ट खेल रहे कुलदीप ने कहा कि वह थोड़े नर्वस थे। उन्होंने शनिवार को कहा,‘‘ईमानदारी से कहूं तो मैंने ऑस्ट्रेलिया में गेंदबाजी करने के लिये कुछ भी बदलाव नहीं किया है। मैं इस सीरीज में अपना पहला टेस्ट खेल रहा हूं इसलिये थोड़ा नर्वस था।’’
 
कुलदीप ने कहा,‘‘मैं इतना क्रिकेट खेल चुका हूं कि मुझे ठीक ठाक जानकारी है लेकिन टेस्ट क्रिकेट में मुझे शायद सुधार करने के लिये थोड़े और समय की जरूरत है। आप जितना अधिक लाल गेंद से खेलोगे, उतना ही ज्यादा आप सुधार कर सकते हो।’’

उन्होंने कहा कि मैच में खेलने के अनुभव का कोई दूसरा विकल्प नहीं हो सकता, इसी से एक गेंदबाज के प्रदर्शन में सुधार होता है। कुलदीप ने कहा, ‘‘टेस्ट क्रिकेट भी ऐसा ही, जितना ज्यादा आप खेलोगे, उतने बेहतर ढंग से आप बल्लेबाज को पढ़ सकोगे। बल्लेबाज के लिये योजना बनाने के लिये आपके पास समय होगा और आप उतने ही ज्यादा ओवर फेंक सकोगे और क्षेत्ररक्षण को बदल सकोगे।’’
 
उन्होंने कहा,‘‘सफेद गेंद के क्रिकेट की तुलना में लाल गेंद के क्रिकेट में ज्यादा दबाव होता है। लेग स्पिनर के तौर पर आपको इसके अनुरूप खुद को बदलने और चीजों को नियंत्रित करने के लिये आपको कम से कम 10 दिन की जरूरत होती है।’’ 

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन