Live TV
GO
Hindi News खेल क्रिकेट मिताली राज को सेमीफाइनल में ना...

मिताली राज को सेमीफाइनल में ना खिलाना निराशाजनक था: झूलन गोस्वामी

भारतीय महिला टीम की स्टार गेंदबाद झूलन गोस्वामी ने भी मिताली को ना खिलाने के फैसले को निराशाजनक करार दिया।

India TV Sports Desk
India TV Sports Desk 24 Nov 2018, 12:52:59 IST

आईसीसी महिला टी20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में मिताली राज को टीम में ना खिलाने का विवाद लगातार बढ़ता जा रहा है। इंग्लैंड के खिलाफ हुए सेमीफाइनल मुकाबले में कप्तान हरमनप्रीत कौर ने मिताली राज को प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं दी थी और भारत वो मैच बुरी तरह से हार गया था। मैच के बाद पहले मिताली की मैनेजर अनीशा गुप्ता ने हरमनप्रीत कौर को निशाने पर लिया और अब भारतीय महिला टीम की स्टार गेंदबाज झूलन गोस्वामी ने भी मिताली को ना खिलाने के फैसले को गलत करार दिया।

Highlights

द टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में झूलन गोस्वामी ने कहा, 'मिताली को टीम में ना खिलाने का फैसला टीम मैनेजमेंट का था। मुझे पता है मिताली को ना खिलाने के पीछे उनके कुछ कारण हो सकते हैं लेकिन बतौर क्रिकेट फैन मिताली को बाहर बैठते देख मुझे बुरा लगा।'

आपको बता दें कि मिताली राज को टी20 विश्व कप के दो मैचों में जगह दी गई थी और इन दोनों ही मैचों में मिताली ने शानदार अर्धशतक लगाए थे। मिताली ने पाकिस्तान के खिलाफ (56) और आयरलैंड के खिलाफ (51) रनों की पारी खेली थी। जबकि न्यूजीलैंड के खिलाफ उन्हें बल्लेबाजी का मौका नहीं मिला था।

मिताली राज को संयम के साथ और सोच-समझकर बल्लेबाजी के लिए जाना जाता है और वो लगातार गिरते विकेटों के पतझड़ को रोकने का दमखम रखती हैं। लेकिन इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में उनका ना रहना टीम को खला और भारत ने लगातार विकेट खोए। सेमीफाइनल में भारत का स्कोर एक समय 89 पर 2 विकेट था लेकिन बाद में भारत ने 23 रन के अंदर 8 विकेट खो दिए थे।

झूलन गोस्वामी ने आगे कहा, 'हमने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनी थी लेकिन हम उसका फायदा नहीं उठा सके। खिलाड़ी हालात को अच्छे से समझ नहीं सके और अच्छी शुरुआत के बाद बिखर गए।' आपको बता दें कि ये लगातार दूसरी बार है जब भारत आईसीसी टूर्नामेंट में इंग्लैंड से हारकर बाहर हुआ है। इससे पहले 50 ओवरों के विश्व कप में भी फाइनल में इंग्लैंड ने भारत के खिताब जीतने का सपना तोड़ दिया था।

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन