Live TV
  1. Home
  2. खेल
  3. क्रिकेट
  4. ऋषभ पंत को जाल में फंसाने...

ऋषभ पंत को जाल में फंसाने के लिए इंग्लैंड ने चली ये चाल और मिल गई सफलता

रिषभ पंत ने क्रीज पर उतरते ही तेजी से रन बनाने शुरू कर दिए थे।

India TV Sports Desk
Written by: India TV Sports Desk 02 Sep 2018, 21:14:44 IST

इंग्लैंड के खिलाफ खेले जा रहे चौथे टेस्ट मैच में भरातीय टीम के युवा खिलाड़ी ऋषभ पंत क्रीज में उतरते ही तेजी से रन बना रहे थे। ऐसा लग रहा था कि पंत को ड्रेसिंग रूम से कुछ निर्देश दिए गए और यही वजह थी कि वो क्रीज पर उतरते ही लंबे-लंबे शॉट खेल रहे थे। पंत 1 चौके और 1 छक्का लगा चुके थे। इस दौरान पारी का 59वां ओवर मोईन अली को दिया गया। पंत ने दूसरी गेंद मिडल स्टंप की लाइन पर फ्लाइट फेंकी। पंत ने क्रीज से आगे निकलकर गेंदबाज के सिर के ऊपर से गेंद को 4 रनों के लिए भेज दिया। इस शॉट के बाद इंग्लैंड ने बिछाया जाल। आखिर कौन सा जाल इंग्लैंड ने बिछाया और कैसे फंसे पंत? आइए जानते हैं।

इंग्लैंड के जाल में फंसे पंत: पंत ने जब चौका लगाया तो इसके बाद बेन स्टोक्स ने इशारे से मोईन को गेंद की लाइन बदलने को कहा। इस दौरान स्टोक्स, रूट ने मोईन से बातचीत भी की। तीनों खिलाड़ियों ने आपस में सलाह-मश्वरा किया और मोईन ने ओवर की तीसरी गेंद थोड़ी से ऑफ स्टंप के बाहर लेकिन शॉर्ट रखी। इसकी अगली गेंद मोईन ने फिर से ऑफ स्टंप के बाहर रखी और फ्लाइट दी। पंत ने गेंद की लंबाई को देखकर फिर से क्रीज से आगे निकलकर शॉट खेला और इस शॉट के लिए इंग्लैंड ने स्वीपर कवर में फील्डर तैनात कर रखा था। स्वीपर कवर में कुक ने गेंद को कैच कर लिया और पंत की पारी का अंत हो गया। 

पंत आखिर में 12 गेंदों में 18 रन बनाकर आउट हुए। अपनी पारी में पंत ने 2 चौके और 1 छक्का लगाया। पंत ने छोटी लेकिन जुझारू पारी खेली और फैंस का मनोरंजन किया। लेकिन मैच जिस हालात में था उसके मुताबिक पंत को वहां रुकना चाहिए था। लेकिन पंत ड्रेसिंग रूम से ठानकर ही आए थे कि क्रीज पर उतरते ही तेजी से रन बनाने हैं।

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी रीड करते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें khabarindiaTv का खेल सेक्‍शन
Web Title: India vs England, 4th Test: England made special strategy to dismiss Rishbah Pant, ऋषभ पंत को जाल में फंसाने के लिए इंग्लैंड ने चली ये चाल और मिल गई सफलता