Live TV
GO
Hindi News खेल क्रिकेट IND vs SA, केपटाउन टी-20: कांटे...

IND vs SA, केपटाउन टी-20: कांटे के मुक़ाबले के लिए दोनों टीमें ने छुपाए तुरुप के पत्ते

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच शनिवार को खेले जाने वाला तीसरा और अंतिम मैच 'फाइनल' जैसी हैसियत का है और दोनों टीमें इसे जीतने के लिए जी जान लगा देंगी.

India TV Sports Desk
India TV Sports Desk 24 Feb 2018, 9:19:19 IST

केपटाउन: भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच शनिवार को खेले जाने वाला तीसरा और अंतिम मैच 'फाइनल' जैसी हैसियत का है और दोनों टीमें इसे जीतने के लिए जी जान लगा देंगी. ज़ाहिर है ऐसे में मैच रोमांचक होने जा रहा है. तीन टी-20 मैचों की सीरीज में दोनों टीमें 1-1 से बराबरी पर हैं और तीसरे मैच का परिणाम ही सीरीज के विजेता तय करेगा.

जोहानसर्ग में 18 फरवरी को खेले गए मैच में भारत ने जीत हासिल की थी, लेकिन 21 फरवरी को सेंचुरियन में खेले गए मैच में उसे मेजबान टीम से हार का सामना करना पड़ा. पिछले दोनों मैचों में भारत और दक्षिण अफ्रीका की टीमें मैदान पर उतार-चढ़ाव से गुजरी हैं. पहले मैच में भारतीय टीम के गेंदबाजों ने अच्छा कमाल दिखाया था, वहीं दूसरे मैच में दक्षिण अफ्रीका को उसके बल्लेबाजों की वजह से जीत मिली. 

पहले टी-20 मैच में भारतीय ने सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (72) की शानदार बल्लेबाजी के दम पर 203 रनों का स्कोर खड़ा किया और इसके बाद भुवनेश्वर कुमार (5/24) की गेंदबाजी से दक्षिण अफ्रीका को लक्ष्य तक पहुंचने नहीं दिया. दक्षिण अफ्रीका ने हालांकि, दूसरे मैच में अच्छी वापसी की। इस सीरीज से टी-20 प्रारूप में पदार्पण करने वाले दो युवा खिलाड़ियों जूनियर डाला और हेनरिक क्लासेन ने मेजबान टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई. डाला ने दो विकेट चटकाए, तो वहीं क्लासेन ने 69 रनों की शानदार पारी खेली हालांकि, इसमें कप्तान जीन पॉल डुमिनी की नाबाद 64 रनों की पारी ने भी अहम भूमिका निभाई.

ऐसे में दोनों ही टीमें तीसरे मैच को जीतने में पूरा जोर लगाएंगी। भारतीय टीम के पास धवन, सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और इस सीरीज से टीम में वापसी करने वाले सुरेश रैना, कप्तान विराट कोहली, महेंद्र सिंह धौनी के अलावा, पिछले मैच में टीम के लिए सबसे अधिक 79 रन बनाने वाले मनीष पांडे जैसे बल्लेबाज हैं.

जहां तक गेंदबाजों सवाल है, तो उसके पास भुवनेश्वर कुमार, शार्दूल ठाकुर, जयदेव उनादकट, हार्दिक पांड्या और युजवेंद्र चहल जैसे खिलाड़ी हैं, जो दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाजों के लिए मुश्किल खड़ी कर सकते हैं। 

दक्षिण अफ्रीका के पास भले ही उसके अनुभवी खिलाड़ी अब्राहम डिविलियर्स और क्विंटन डी कॉक नहीं हैं, लेकिन डाला और क्लासेन जैसे युवा खिलाड़ियों ने दूसरे मैच में उनकी कमी महसूस नहीं होने दी. रीजा हैंड्रिक्स, डुमनी, क्लासेन, फरहान बेहरदीन और जेजे स्मट्स ने जहां एक ओर टीम की बल्लेबाजी की जिम्मेदारी संभाली है, वहीं डाला, क्रिस मौरिस, तबरेज शम्सी, जे. स्मट्स ने गेंदबाजी का जिम्मा संभाला हुआ है. 

भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, लोकेश राहुल, सुरेश रैना, महेंद्र सिंह धौनी (विकेटकीपर), दिनेश कार्तिक, हार्दिक पांड्या, मनीष पांडे, अक्षर पटेल, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, जयदेव उनादकट, शार्दूल ठाकुर। 

दक्षिण अफ्रीका: जीन पॉल ड्युम्नी (कप्तान), फरहान बेहरदीन, जूनियर डाला, रीजा हेंड्रिक्स, क्रिस्टियन जोंकर, हेनरिक क्लासेन (विकेटकीपर), डेविड मिलर, क्रिस मौरिस, डेन पेटरसन, एरॉन फांगिसो, अंदिले फेहुलकवायो, तबरेज शम्सी, जोन-जोन स्मट्स और जूनियर डाला। 

India Tv Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन