Live TV
GO
Hindi News खेल क्रिकेट मेरे हिसाब से हमारी टीम में...

मेरे हिसाब से हमारी टीम में हर कोई अपना कप्तान है: युजवेंद्र चहल

भारत के लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने कहा है कि वह समय के साथ और ज्यादा से ज्यादा मैच खेल कर एक चतुर गेंदबाज बन गए हैं।

IANS
IANS 17 May 2019, 18:03:55 IST

नई दिल्ली| भारत की हालिया सफलता की मुख्य वजह रहे लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने कहा है कि वह समय के साथ और ज्यादा से ज्यादा मैच खेल कर एक चतुर गेंदबाज बन गए हैं। जिम्बाब्वे के खिलाफ 2016 में पदार्पण करने वाले चहल ने साथ ही कहा कि उनकी और चाइनमैन कुलदीप यादव की जोड़ी इसलिए सफल है क्योंकि दोनों के बीच तालमेल अच्छा है। 

चहल भारत की विश्व कप टीम का हिस्सा हैं और 30 मई से इंग्लैंड एंड वेल्स में शुरू हो रहे क्रिकेट के महाकुंभ में भारत की सफलता कई हद तक स्पिन पर निर्भर करेगी क्योंकि टूर्नामेंट के दूसरे हाफ में गर्मी के कारण विकेट सूखे मिलेंगे और स्पिनरों के मददगार होंगे। चहल ने हालिया दौर में अच्छी सफलता हासिल की है लेकिन वह इसका श्रेय महेंद्र सिंह धोनी को देना नहीं भूलते। 

चहल ने आईएएनएस से बातचीत में कहा, "माही भाई (धोनी) ने हमारी काफी मदद की है। वह हमें बताते हैं कि विकेट किस तरह से खेलेगी। इससे हमें पता चल जाता है कि क्या करना है, हमारा समय इस बात को पता करने में नहीं जाता। मेरे और कुलदीप के लिए यह एक बड़ा प्लस प्वांइट है।"

धोनी कई बार स्टम्प माइक में यह बताते हुए कैद हुए हैं कि चहल और कुलदीप को कहां गेंद फेंकनी चाहिए। धोनी के अलावा चहल टीम के कप्तान विराट कोहली और रोहित शर्मा को भी सफलता की वजह बताते हैं। 

उन्होंने कहा, "धोनी के अलावा, विराट और रोहित भी हमारी मदद करते हैं। मेरे हिसाब से हमारी टीम में हर कोई अपना कप्तान है और एक दूसरे की मदद करता है। इसलिए मेरे और कुलदीप के लिए यह अच्छा है कि हम इस तरह के ड्रेसिंग रूम में आए जहां इतने अनुभवी खिलाड़ी हैं।"

चहल और कुलदीप ने भारत को दक्षिण अफ्रीका और आस्ट्रेलिया में मिली सफलता में अहम रोल निभाया था। इन दोनों ने अभी तक 45 वनडे मैचों में 159 विकेट लिए हैं। भारत ने इंग्लैंड में खेली गई तीन मैचों की वनडे सीरीज में 2-1 से जीत हासिल की थी और चहल इस सीरीज में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों की सूची में दूसरे स्थान पर रहे थे। 

28 साल के इस खिलाड़ी ने कहा कि उन्होंने अपनी गेंदबाजी में कोई बदलाव नहीं किया है, "मैं वही करता आ रहा हूं जो में वर्षो से करता आ रहा था। मैंने अपनी गेंदबाजी में ज्यादा बदलाव नहीं किए हैं। वैरिएशन एक जैसे होते हैं, लेकिन अब मैं उन्हें इस्तेमाल करने में और परिपक्व हो गया हूं।"

चहल साथ ही खेल के अन्य विभाग में भी काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा, "मैं अपनी फील्डिंग और बल्लेबाजी पर काम कर रहा हूं। मुझे हमेशा से लगता है कि आपको अपने खेल में कुछ न कुछ शामिल करना चाहिए और मैं इसी तरह की कोशिश कर रहा हूं।"

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन