Live TV
GO
  1. Home
  2. खेल
  3. क्रिकेट
  4. तो इसलिए रेलवे ने हरमनप्रीत से...

तो इसलिए रेलवे ने हरमनप्रीत से की 27 लाख रूपए की मांग

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस मामले को केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल के समक्ष उठाया है।

Bhasha
Reported by: Bhasha 21 Jan 2018, 13:05:48 IST

चंडीगढ़: भारतीय महिला क्रिकेट टीम की उप कप्तान हरमनप्रीत कौर ने अपने नियोक्ता पश्चिम रेलवे से खुद को कार्यमुक्त करने का अनुरोध किया ताकि वह पंजाब पुलिस में बतौर उपाधीक्षक जुड़ सकें। 

अधिकारियों ने कहा कि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस मामले को केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल के समक्ष उठाया है कि रेलवे हरमनप्रीत का इस्तीफा स्वीकार कर ले ओर उसे पंजाब पुलिस में उपाधीक्षक के तौर पर काम करने की अनुमति दे दे। 

हरमनप्रीत के पिता हरमंदर सिंह भुल्लर पंजाब में मोगा निवासी हैं, उन्होंने आज पश्चिम रेलवे से अपनी बेटी को कार्यालय अधीक्षक के पद से कार्यमुक्त करने का अनुरोध किया। 

भुल्लर ने कहा, ‘‘मेरी बेटी पंजाब पुलिस में डीएसपी पद पर जुड़ना चाहती है, जिसकी पिछले साल पंजाब सरकार ने पेशकश की थी। यहां इस पद से जुड़ने से वह अपने राज्य में ही आ जायेगी। लेकिन रेलवे उसे सेवामुक्त नहीं कर रहा है क्योंकि मेरी बेटी ने उनसे पांच साल के बांड पर हस्ताक्षर किये हैं। ’’ 

दरअसल, भारतीय रेलवे ने हरमनप्रीत को अच्छे खेल का ईनाम देते हुए नौकरी दी थी। हालांकि इसमें शर्त रखी गई थी उन्हें कम से कम पांच साल ड्यूटी करनी होगी। हरमनप्रीत ने करार तोड़ते हुए महज तीन साल में ही रेलवे की नौकरी से इस्तीफा दे दिया है। इस कारण रेलवे ने उनपर 27 लाख रुपए का जुर्माना लगाया है।

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Web Title: Harmanpreet Kaur has urged her employer the Western Railways to relieve her so that she can join as Deputy