Live TV
GO
Hindi News खेल क्रिकेट शराब पीकर खेली इस बल्लेबाज़ ने...

शराब पीकर खेली इस बल्लेबाज़ ने 175 रन की आतिशी पारी लेकिन होश उड़े विरोधी टीम के

यूं तो हर्शल गिब्स साथ कई क़िस्से जुड़े हुए हैं लेकिन 12 मार्च 2006 में ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ जोहानसबर्ग वनडे में से एक दिलचस्प कहानी जुड़ी हुई है जिसका ज़िक्र उन्होंने ख़ुद अपनी आत्मकथा में किया है.

India TV Sports Desk
India TV Sports Desk 23 Feb 2018, 11:59:54 IST

मैच फिक्सिंग में भी लिप्त रहे साउथ अफ़्रीका के पूर्व बल्लेबाज़ हर्शल गिब्स अपनी तूफ़ानी बल्लेबाज़ी के लिए जाने जाते थे. वह अक़्सर विवादों में भी घिरे रहे. हालंकि उन्होंने क्रिकेट को अपना करिअर बनाया लेकिन वह स्कूल में रग्बी और फुटबॉल खेला करते थे. इन दिनों गिब्स गोल्फर और टीवी एनालिस्ट की भूमिका में नज़र आते हैं. निभा रहे हैं. यूं तो इनके साथ कई क़िस्से जुड़े हुए हैं लेकिन 12 मार्च 2006 में ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ जोहानसबर्ग वनडे में से एक दिलचस्प कहानी जुड़ी हुई है जिसका ज़िक्र उन्होंने ख़ुद अपनी आत्मकथा में किया है.

12 मार्च 2006 को जोहानिसबर्ग वनडे में ऑस्ट्रेलिया ने साउथ अफ्रीका के सामने 434 रन का असंभव लक्ष्य रखा था लेकिन हर्शल गिब्स की 175 रन की वजह से साउथ अफ़्रीका ने न सिर्फ ये लक्ष्य हासिल कर लिया बल्कि विश्व रिकॉर्ड भी बना दिया. गिब्स ने 111 बॉल पर 21 चौके और सात छक्के लगाए थे. हर्शल गिब्स का वनडे क्रिकेट में 175 रन सर्वोच्च निजी स्कोर है जो कि उन्होंने नशे की हालत में बनाया था. इस बात का खुलासा गिब्स ने अपनी ऑटोबायोग्राफी 'टू द पॉइंट: द नो-होल्ड्स-बार्रेड ऑटोबायोग्राफी' में किया है. इस बात का ज़िक्र ऑस्ट्रेलिया के माइकल हसी ने भी अपनी किताब में किया है. गिब्स ने कहा,'उस मैच से पहले की रात मैंने काफी शराब पी थी और मैच वाले दिन ज़बरदस्त हैंगओवर था.'

साउथ उफ्रीका के लिए गिब्स ने 248 वनडे मैचों में 21 शतक की सहायता से 8094 रन बनाए हैं और वह तीसरे सफल बल्लेबाज़ हैं जबकि 90 टेस्ट में उनके नाम 6167 रन दर्ज हैं. टेस्ट में वह अफ्रीका के छठे सफल बल्लेबाज़ हैं. वहीं उन्होंने 23 टी-20 मैचों में 400 रन बनाए हैं.

 

 

इंटरनेशनल वनडे क्रिकेट में छह बॉल पर छह छक्के लगाने वाले हर्शल गिब्स दुनिया के इकलौते खिलाड़ी हैं. उन्होंने यह कारनामा 2007 विश्व कप में नीदरलैंड के गेंदबाज़ वान बुगें के एक ओवर की सभी गेंदों पर छक्के जड़कर किया था. बुगें ने इसके बाद क्रिकेट से संन्यास ​ले लिया था.

यह दमदार बल्लेबाज़ है. 2000 में उन्होंने तत्कालीन कप्तान हैंसी क्रोनिए के कहने पर मैच फिक्सिंग की थी. इस बात का खुलासा गिब्स ने अपनी किताब में किया है. साथ ही उन्होंने कहा कि 1996 में भारत दौरे पर भी हैंसी ने मैच फिक्सिंग की पेशकश की थी. फिक्सिंग के लिए गिब्स पर लाइफ बैन लगा था.

विश्व क्रिकेट के शानदार फील्डर रहे गिब्स का निकनेम 'स्कूटर' है. जी हां, एक ईवेंट के दौरान खुद गिब्स ने खुलासा किया था कि जब मैं 16 साल का था तब मैं कार नहीं ड्राइव कर पाता था. तब पश्चिमी प्रांत के लोगों ने मजाक किया कि वे मेरे लिए स्कूटर खरीदेंगे.'

गिब्स ने अपनी गर्लफ्रेंड टैनियली पॉवी के साथ 2007 में वेस्टइंडीज के सेंट किट्स में शादी की थी, लेकिन एक साल बाद ही दोनों के बीच अलगाव हो गया. इसके बाद गिब्स ने अकेले रहने का फैसला किया यानि आज तक वह सिंगल हैं.

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन