Live TV
GO
  1. Home
  2. खेल
  3. क्रिकेट
  4. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 300 से ज्यादा...

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 300 से ज्यादा रन बनाने होंगे: दिनेश चंडीमल

ऑस्ट्रेलिया में श्रीलंका ने अबतक 13 मैच खेले हैं और उसे 11 में हार झेलनी पड़ी है जबकि दो मैच ड्रॉ रहे हैं।

IANS
Reported by: IANS 16 Jan 2019, 15:59:22 IST

होबार्ट: ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाली दो मैचों की टेस्ट सीरीज से पहले श्रीलंका के कप्तान दिनेश चंडीमल ने अपने बल्लेबाजों से पहली पारी में मेजबान टीम के खिलाफ 300 से ज्यादा रन बनाने की मांग की है। श्रीलंका की टीम ऑस्ट्रेलिया में दो टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेगी। ऑस्ट्रेलिया में श्रीलंका ने अबतक 13 मैच खेले हैं और उसे 11 में हार झेलनी पड़ी है जबकि दो मैच ड्रॉ रहे हैं। चंडीमल चाहते हैं कि उनकी टीम इस बार ऐतिहासिक जीत दर्ज करने में कामयाब हो पाए। 

चंडीमल का मानना है कि अगर श्रीलंका के बल्लेबाज 300 के पार का स्कोर बनाने में कामयाब हो पाते हैं तो उनके गेंदबाज ऑस्ट्रेलिया के लिए पेरशानी पैदा कर सकते हैं। उन्होंने हाल में ऐतिहासिक सीरीज जीतने वाली भारतीय टीम के गेंदबाजों की भी प्रशंसा की। 

'क्रिकइंफो' ने चंडीमल के हवाले से बताया, "यह एक ऐसा क्षेत्र है जहां हम बेहतर होना चाहते हैं। हमने न्यूजीलैंड में दोनों टेस्ट में अच्छा प्रदर्शन किया खासकर दूसरी पारी में और हम बस अच्छी शुरुआत करना चाहते हैं, चाहे गेंदबाजी हो या बल्लेबाजी। हमने पिछली सीरीज से सीख ली है और खिलाड़ियों की योजना तैयार है, अगर वह मैदान पर योजना को अमल में ला पाते हैं तो यह हमारे लिए अच्छी शुरुआत होगी।"

चंडीमल ने कहा, "हमारे तेज गेंदबाज अच्छी फॉर्म में हैं, अगर हम 300 से ज्यादा स्कोर बनाने में कामयाब हो पाते हैं तो यह बल्लेबाजों की ओर से अच्छा योगदान होगा। भारत ने बेहतरन गेंदबाजी की, खासकर 40-80 ओवर के बीच में और इसी वजह से वे सीरीज जीतने में कामयाब हो पाए। हम एक टीम के रूप में बेहरीन प्रदर्शन करना चाहते हैं।"

पहला टेस्ट मै 24 जनवरी को सिडनी के गाबा मैदान पर खेला जाएगा। 

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Web Title: Dinesh Chandimal, the Sri Lanka captain, has called on his batsmen to dig deep and post first-innings totals over 300 to give the bowlers a chance of repeating the success India enjoyed