Live TV
GO
  1. Home
  2. पैसा
  3. बाजार
  4. चीनी उत्पादन का टूटने वाला है...

चीनी उत्पादन का टूटने वाला है रिकॉर्ड, ISMA ने 295 लाख टन उत्पादन का अनुमान लगाया

देश में चीनी उत्पादन के इतिहास में कभी भी इतनी ज्यादा चीनी पैदा नहीं हुई है। ISMA के मुताबिक इस साल खपत के मुकाबले देश में 45 लाख टन ज्यादा चीनी पैदा होने जा रही है

Manoj Kumar
Reported by: Manoj Kumar 07 Mar 2018, 12:58:51 IST

नई दिल्ली। देश में इस साल चीनी के उत्पादन के सारे रिकॉर्ड टूटने वाले हैं, चीनी मिलों के संगठन इंडियन शुगर मिल्स एसोसिएशन (ISMA) के मुताबिक चालू चीनी वर्ष 2017-18 (सितंबर से अक्टूबर) देश में इस साल चीनी का उत्पादन 295 लाख टन होने का अनुमान है। देश में कभी भी एक साल में इतनी ज्यादा चीनी का उत्पादन नहीं हुआ है।

उत्पादन अनुमान में 34 लाख टन की बढ़ोतरी

ISMA ने उत्पादन अनुमान में 34 लाख टन का इजाफा किया है, इससे पहले संगठन ने 261 लाख टन चीनी पैदा होने का अनुमान जारी किया था लेकिन ताजा सर्वेक्षण के बाद इसमें बदलाव किया है और 295 लाख टन चीनी उत्पादन होने का अनुमान लगाया है। ISMA के मुताबिक देशभर में 479 मिलों में गन्ने की पेराई का काम अभी भी चल रहा है और फरवरी अंत तक मिलों का कुल उत्पादन 230 लाख टन को पार कर चुका था।

उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र में 100 लाख टन से ज्यादा चीनी उत्पादन

ISMA के मुताबिक पिछले साल जब देश में सिर्फ 203 लाख टन चीनी पैदा हुई थी दो महाराष्ट्र में सिर्फ 42 लाख टन और कर्नाटक में 21.6 लाख टन का उत्पादन था। लेकिन इस साल इन दोनो राज्यों में बंपर उत्पादन होने जा रहा है साथ में उत्तर प्रदेश में भी इस साल रिकॉर्ड उत्पादन का अनुमान है। ISMA के मुताबिक इस साल उत्तर प्रदेश में 105.13 लाख टन, महाराष्ट्र में 101.3 लाख टन और कर्नाटक में 35.45 लाख टन चीनी उत्पादन का अनुमान है।

निर्यात बढ़ाने की जरूरत

ISMA के मुताबिक देश में चीनी की सालाना खपत लगभग 250 लाख टन होती है और इस साल खपत के बाद भी 45 लाख टन चीनी बच जाएगी। चीनी उद्योग को ज्यादा स्टॉक की मार से बचने के लिए अगले 6-7 महीने के दौरान निर्यात बढ़ाना होगा   

Web Title: चीनी उत्पादन का टूटने वाला है रिकॉर्ड, ISMA ने 295 लाख टन उत्पादन का अनुमान लगाया