Live TV
GO
  1. Home
  2. पैसा
  3. बाजार
  4. Market Cap : BSE की टॉप...

Market Cap : BSE की टॉप 7 कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 75,684 करोड़ रुपए घटा, HUL को हुआ सबसे ज्‍यादा नुकसान

सेंसेक्स की टॉप 10 कंपनियों में से सात के बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) में बीते सप्ताह 75,684.33 करोड़ रुपए की गिरावट दर्ज की गयी। इस दौरान, हिंदुस्तान यूनिलीवर की बाजार हैसियत सबसे ज्यादा गिरी।

India TV Paisa Desk
Edited by: India TV Paisa Desk 09 Sep 2018, 12:24:47 IST

नई दिल्ली सेंसेक्स की टॉप 10 कंपनियों में से सात के बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) में बीते सप्ताह 75,684.33 करोड़ रुपए की गिरावट दर्ज की गयी। इस दौरान, हिंदुस्तान यूनिलीवर की बाजार हैसियत सबसे ज्यादा गिरी। मारुति सुजुकी इंडिया, भारतीय स्टेट बैंक और आईटीसी समेत सात प्रमुख कंपनियों के बाजार पूंजीकरण में गिरावट आई जबकि रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल), टीसीएस और इंफोसिस का पूंजीकरण बढ़ा।

हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड का मार्केट कैप सबसे अधिक 29,449.99 करोड़ रुपए गिरकर 3,54,774.44 करोड़ रुपए रह गया। इसी प्रकार, एसबीआई का पूंजीकरण 15,171.8 करोड़ रुपए गिरकर 2,60,464.09 करोड़ रुपए और मारुति सुजुकी इंडिया का बाजार पूंजीकरण 11,016.86 करोड़ रुपए गिरकर 2,63,792.92 करोड़ रुपए रहा।

आईटीसी का मार्केट कैप 10,702.43 करोड़ गिरकर 3,79,660.86 करोड़ रुपए और कोटक महिंद्रा बैंक का पूंजीकरण 7,130.61 करोड़ गिरकर 2,37,931.73 करोड़ रुपए पर आ गया। एचडीएफसी बैंक का पूंजीकरण 1,194.57 करोड़ रुपए और एचडीएफसी का पूंजीकरण 1,018.07 करोड़ रुपए गिरकर क्रमश: 5,58,693.63 करोड़ रुपए और 3,25,634.13 करोड़ रुपए रहा।

वहीं, दूसरी ओर आरआईएल का बाजार पूंजीकरण 22,784.32 करोड़ रुपए बढ़कर 8,09,254.98 करोड़ रुपए हो गया। इंफोसिस का मार्केट कैप 5,734.99 करोड़ रुपए चढ़कर 3,20,258.56 करोड़ रुपए और टीसीएस का बाजार पूंजीकरण 574.29 करोड़ रुपए बढ़कर 7,96,228.78 करोड़ रुपए हो गया।

बाजार पूंजीकरण के हिसाब से रिलायंस इंडस्ट्रीज शीर्ष स्थान पर बनी रही। इसके बाद टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, आईटीसी, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एचडीएफसी, इंफोसिस, मारुति सुजुकी, भारतीय स्टेट बैंक और कोटक महिंद्रा बैंक का स्थान रहा। इस दौरान बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 255.25 अंक यानी 0.66 फीसदी गिरा।

Web Title: Market Cap : BSE की टॉप 7 कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 75,684 करोड़ रुपए घटा, HUL को हुआ सबसे ज्‍यादा नुकसान