Live TV
GO
  1. Home
  2. पैसा
  3. बाजार
  4. यूएस-नॉर्थ कोरिया के बीच बढ़ती टेंशन...

यूएस-नॉर्थ कोरिया के बीच बढ़ती टेंशन से शेयर बाजार हुए धराशायी, निवेशकों के डूबे 1.38 लाख करोड़ रुपए

नॉर्थ कोरिया द्वारा जापान की दिशा में मिसाइल दागने के बाद तनाव बढ़ने से निवेशकों में बेचैनी है। इससे बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स आज 362 अंक टूट गया।

Abhishek Shrivastava
Abhishek Shrivastava 29 Aug 2017, 19:04:25 IST

मुंबई। नॉर्थ कोरिया द्वारा जापान की दिशा में मिसाइल दागने के बाद भू-राजनीतिक तनाव बढ़ने से निवेशकों में बेचैनी है। इससे बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स आज 362 अंक टूट गया। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी में भी जोरदार गिरावट आई। निफ्टी में नौ महीने की सबसे बड़ी गिरावट दर्ज हुई, जबकि सेंसेक्स का यह एक माह में एक दिन का सबसे खराब प्रदर्शन है। शेयर बाजारों में जोरदार बिकवाली के बीच निवेशकों की पूंजी आज 1.38 लाख करोड़ रुपए घट गई।

तीस शेयरों वाला सेंसेक्स 362 अंक से अधिक टूटकर 31,388.39 अंक पर आ गया। लगातार चार दिन की तेजी के बाद सेंसेक्स नीचे आया है। शेयर बाजारों में गिरावट के बीच बंबई शेयर बाजार की सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 1,38,726.77 करोड़ रुपए घटकर 1,29,77,705 करोड़ रुपए पर आ गया। बंबई शेयर बाजार में 1,784 शेयरों में नुकसान रहा, 789 लाभ में रहे तथा 127 के मूल्य में परिवर्तन नहीं हुआ।

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 362.43 या 1.14 प्रतिशत के नुकसान से 31,388.39 अंक पर आ गया। यह 22 अगस्त के बाद इसका सबसे निचला स्तर है। उस दिन सेंसेक्स 31,291.85 अंक पर बंद हुआ था। कारोबार के दौरान यह 31,360.81 से 31,739.80 अंक के दायरे में रहा। 18 जुलाई के बाद यह सेंसेक्स की एक दिन में सबसे बड़ी गिरावट है। उस दिन सेंसेक्स 363.79 अंक नीचे आया था। पिछले चार सत्रों में सेंसेक्स 491.97 अंक चढ़ा था।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 9,800 अंक से नीचे 9,783.75 अंक के निचले स्तर तक आया। अंत में निफ्टी 116.75 अंक या 1.18 प्रतिशत के नुकसान से 9,796.05 अंक पर बंद हुआ। यह नौ माह में निफ्टी की एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट है। हालिया लाभ वाले शेयरों में मुनाफावसूली से भी बाजार में गिरावट आई।

जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के मुख्य बाजार रणनीतिकार आनंद जेम्स ने कहा, वित्‍तीय राजधानी में बाढ़ की चिंता तथा विदेशी संस्थागत निवेशकों की भारी बिकवाली से बाजार में गिरावट आई। सेंसेक्स की कंपनियों में एनटीपीसी का शेयर सबसे अधिक 2.80 प्रतिशत टूटकर 168.50 रुपए पर आ गया। सरकार ने कहा है कि वह देश की सबसे बड़ी बिजली उत्पादक कंपनी में अपनी पांच प्रतिशत हिस्सेदारी 168 रुपए प्रति शेयर के मूल्य पर बेचकर 7,000 करोड़ रुपए जुटाएगी।

Web Title: यूएस-नॉर्थ कोरिया के बीच बढ़ती टेंशन से शेयर बाजार हुए धराशायी