Live TV
GO
Hindi News पैसा बाजार रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंचने के बाद...

रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंचने के बाद Sensex में आई गिरावट, निवेशकों की मुनाफावसूली से बाजार लुढ़का

सामान्य मानसून के अनुमान और कंपनियों के तिमाही परिणामों के सकारात्मक रहने की उम्मीद के बीच मंगलवार को सेंसेक्स रिकॉर्ड उच्च स्तर पर बंद हुआ था। बुधवार को महावीर जयन्ती के अवसर पर बाजार बंद रहे।

India TV Paisa Desk
India TV Paisa Desk 18 Apr 2019, 17:08:14 IST

मुंबई। कमजोर वैश्विक संकेतों के बीच बीएसई का सेंसेक्स गुरुवार को अब तक के सर्वोच्च स्तर पर पहुंचने के बाद मुनाफावसूली की बिकवाली निकलने से 135 अंक की गिरावट के साथ बंद हुआ। बीएसई का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स दिन के कारोबार में एक समय अब तक के सर्वोच्च स्तर 39,487.45 अंक पर पहुंच गया, लेकिन कारोबार की समाप्ति पर यह 135.36 अंक यानी 0.34 प्रतिशत गिरकर 39,140.28 अंक पर बंद हुआ। वहीं एनएसई का निफ्टी भी 34.35 अंक यानी 0.29 प्रतिशत गिरकर 11,752.80 अंक पर बंद हुआ। 

सामान्य मानसून के अनुमान और कंपनियों के तिमाही परिणामों के सकारात्मक रहने की उम्मीद के बीच मंगलवार को सेंसेक्स रिकॉर्ड उच्च स्तर पर बंद हुआ था। बुधवार को महावीर जयन्ती के अवसर पर बाजार बंद रहे। 

एम्के वेल्थ मैनेजमेंट के शोध विभाग प्रमुख जोसेफ थॉमस ने बताया कि आम चुनावों से पहले उल्लेखनीय गति पकड़ने के बाद मुनाफावसूली के लिए बाजार में ठहराव देखने को मिल सकता है।  
गुरुवार को यस बैंक, वेदांता, इंडसइंड बैंक, टाटा स्टील, एलएंडटी, एसबीआई, एनटीपीसी, कोटक बैंक, एचडीएफसी, एचडीएफसी बैंक, पावरग्रिड, इन्फोसिस और आईटीसी के शेयरों में सबसे ज्यादा गिरावट दर्ज की गई।

वहीं तिमाही नतीजों के एलान से पहले रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर गुरुवार को सबसे अधिक 2.79 प्रतिशत तक चढ़ गए। टाटा मोटर्स, एशियन पेंट्स, टीसीएस, कोल इंडिया, हीरो मोटोकॉर्प, एक्सिस बैंक और एचयूएल के शेयर 2.32 प्रतिशत तक की बढ़त के साथ बंद हुए। 

शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के मुताबिक मंगलवार को विदेशी संस्थागत निवेशकों ने 1,038.58 करोड़ रुपए की शुद्ध लिवाली की। वहीं घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 37.22 करोड़ रुपए के शेयर खरीदे। 
एशिया के अन्य बाजारों की बात करें तो जापान, चीन और कोरिया के बाजारों में गिरावट देखी गई। वैश्विक स्तर पर ब्रेंट कच्चे तेल की कीमत 0.17 प्रतिशत की गिरावट के साथ 71.50 डॉलर प्रति बैरल पर रहा। 

More From Market