Live TV
GO
  1. Home
  2. पैसा
  3. बाजार
  4. शेयर बाजार: RBI पॉलिसी में दरें...

शेयर बाजार: RBI पॉलिसी में दरें बढ़ने के बावजूद बाजार में उछाल, सेंसेक्स 275 प्वाइंट बढ़कर बंद

बुधवार को भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की तरफ से ब्याज दरें बढ़ाने के चौंकाने वाले फैसले के बावजूद शेयर बाजार मजबूती के साथ बंद हुआ है। RBI के फैसले के तुरंत बाद बाजार में जो बिकवाली आई थी वह बाजार बंद होने से पहले फिर मजबूती में तब्दील हुई। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स 275.67 प्वाइंट की शानदार बढ़ोतरी के साथ 35178.88 पर बंद हुआ है वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 91.50 प्वाइंट बढ़कर 10684.65 पर बंद हुआ।

Manoj Kumar
Reported by: Manoj Kumar 06 Jun 2018, 15:50:39 IST

नई दिल्ली। बुधवार को भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की तरफ से ब्याज दरें बढ़ाने के चौंकाने वाले फैसले के बावजूद शेयर बाजार मजबूती के साथ बंद हुआ है। RBI के फैसले के तुरंत बाद बाजार में जो बिकवाली आई थी वह बाजार बंद होने से पहले फिर मजबूती में तब्दील हुई। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स 275.67 प्वाइंट की शानदार बढ़ोतरी के साथ 35178.88 पर बंद हुआ है वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 91.50 प्वाइंट बढ़कर 10684.65 पर बंद हुआ।

बाजार में सबसे ज्यादा उछाल पीएसयू बैंक, मेटल, ऑटो, रियल्टी और मीडिया इंडेक्स में देखने को मिला है। RBI की पॉलिसी के बाद पीएसयू बैंक शेयरों में जोरदार खरीदारी दिखी है। निफ्टी पर ज्यादा बढ़ने वाली कंपनियों में सरकारी बैंकों के शेयर शामिल थे, निफ्टी पर सबसे ज्यादा तेजी भारती एयरटेल, टाइटन, टाटा मोटर्स, सन फार्मा, बजाज फाइनेंस, स्टेट बैंक, आयसर मोटर्स, और हिंडाल्को के शेयरों में देखने को मिली है।

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने आज पॉलिसी दरों में बढ़ोतरी का ऐलान कर दिया है। RBI ने रेपो रेट में 25 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी कर दी है, इस बढ़ोतरी के बाद अब रेपो रेट बढ़कर 6.25 प्रतिशत हो गया है। रेपो रेट में 25 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी के बाद रिवर्स रेपो रेट भी बढ़कर 6 प्रतिशत और मार्जिनल स्टैंडिंग फैसेलिटी दर (MSF) भी बढ़कर 6.5 प्रतिशत हो गया है। इसके अलावा बैंक ने आगे महंगाई दर में बढ़ोतरी की आशंका जताई है और 2018-19 के लिए ग्रोथ का अनुमान 7.4 प्रतिशत किया है।

 

Web Title: शेयर बाजार: RBI पॉलिसी में दरें बढ़ने के बावजूद बाजार में उछाल, सेंसेक्स 275 प्वाइंट बढ़कर बंद