Live TV
GO
Hindi News पैसा गैजेट WhatsApp कर रहा है इन दो...

WhatsApp कर रहा है इन दो नए फीचर्स की टेस्टिंग, आपके लिए जानना है बहुत जरूरी

कंपनी एक नए मार्क एज रीड फीचर की टेस्टिंग कर रही है, जो यूजर्स को नोटिफ‍िकेशन पैनल से मैसेज को स्‍वयं मार्क करने की अनुमति देगा।

India TV Paisa Desk
India TV Paisa Desk 14 Jul 2018, 19:29:08 IST

नई दिल्‍ली। फेसबुक के स्‍वामित्‍व वाला मैसेजिंग प्‍लेटफॉर्म WhatsApp ने अपने यूजर्स के लिए पिछले कुछ महीनों में कई सारे नए फीचर्स पेश किए हैं। अब सामने आ रही रिपोर्ट पर अगर भरोसा किया जाए तो कंपनी एक नए मार्क एज रीड फीचर की टेस्टिंग कर रही है, जो यूजर्स को नोटिफ‍िकेशन पैनल से मैसेज को स्‍वयं मार्क करने की अनुमति देगा। WABetaInfo के मुताबिक इसके अलावा, कंपनी एक अन्‍य फीचर को भी टेस्‍ट कर रही है, जो यूजर्स को नोटिफ‍िकेशन सेंटर से चैट को म्‍यूट करने की अनुमति देगा।

मार्क एज रीड शॉर्टकट को व्‍हाट्सएप के एंड्रॉयड बीटा वर्जन 2.18.214 में देखा गया था। चूंकि यह फीचर वर्तमान में विकास के दौर से गुजर रहा है तो ऐसे में बीटा टेस्‍टर इस तक नहीं पहुंच सकते हैं। नया मार्क एज रीड फीचर यूजर्स को सीधे नोटिफ‍िकेशन सेंटर से सीधे मैसेज को मार्क करने की अनुमति देगा, इसके लिए यूजर को चैट या एप खोलने की जरूरत नहीं होगी।  

अभी तक, यह फीचर उपलब्‍ध नहीं है और यूजर्स को एप खोलकर ही मैसेज पर क्लिक कर बताना होता है कि उसने मैसेज पढ़ लिया है। हालांकि, कंपनी ने नोटिफ‍िकेशन पैनल में व्‍हाट्सएप मैसेज के लिए रिप्‍लाई ऑप्‍शन उपलब्‍ध कराया है। यह रिप्‍लाई ऑप्‍शन यहां आगे भी बना रहेगा और नया बटन जिसे मार्क एज रीड कहा जा रहा है, उसे भी जल्‍द ही व्‍हाट्सएप नोटिफ‍िकेशन शॉर्टकट में जोड़ दिया जाएगा।

वहीं दूसरी तरह, म्‍यूट ऑप्‍शन यूजर्स को सीधे नोटि‍फि‍केशन पैनल से ही चैट को म्‍यूट करने की अनुमति देगा, इसके लिए भी व्‍हाट्सएप एप को खोलने की आवश्‍यकता नहीं होगी। यदि यूजर्स के लिए ये दो फीचर्स उपलब्‍ध कराए जाते हैं तो आपके फोन पर नोटिफ‍िकेशन पैनल को नया लुक जल्‍द प्राप्‍त हो जाएगा। इन फीचर्स को सार्वजनिक करने से पहले इन्‍हें बीटा टेस्‍टर के लिए जल्‍द ही उपलब्‍ध कराए जाने की संभावना है।

फेक न्‍यूज पर आलोचना का सामना करने के बाद व्‍हाट्सएप ने हाल ही में अपना फॉरवर्डेड लेबल को उपलब्‍ध करवा दिया है। यह कदम फेक न्‍यूज पर लगाम लगाने के लिए उठाया गया है। यह लेबल यूजर्स को यह पहचानने में मदद करेगा कि मैसेज यूजर द्वारा टाइप किया गया है या फि‍र फॉरवर्ड किया गया है। यह लेबल फोटो और वीडियो पर भी काम करेगा। इतना ही नहीं प्‍लेटफॉर्म ससपीसियस लिंक डिटेक्‍शन फीचर की भी टेस्टिंग कर रहा है, जो यूजर्स को रेड लेबल के साथ फेक या वैकल्पिक साइट के बारे में चेतावनी देगी।  

More From Gadgets