Live TV
GO
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. आसान नहीं होगी विशाल सिक्का के...

आसान नहीं होगी विशाल सिक्का के उत्‍तराधिकारी की तलाश, संस्‍थापकों की कड़ी नजर के कारण कई दावेदार हट सकते हैं पीछे

उद्योग के विशेषज्ञों का मानना है कि कंपनी के कुछ दिग्गज संस्थापकों की निगाह में रहने की वजह से विशाल सिक्का के पद के कई दावेदार पीछे हट सकते हैं।

Manish Mishra
Manish Mishra 20 Aug 2017, 19:05:45 IST

नई दिल्ली। आईटी कंपनी इन्‍फोसिस के लिए विशाल सिक्का के स्थान पर नए मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) की तलाश आसान नहीं होगी। उद्योग के जानकारों और विशेषज्ञों का मानना है कि कंपनी के कुछ दिग्गज संस्थापकों की निगाह में रहने की वजह से सीईओ पद के कई दावेदार पीछे हट सकते हैं। इन्फोसिस के पहले गैर-संस्थापक सीईओ विशाल सिक्का ने शुक्रवार को इस्तीफा दे दिया। उन्होंने संस्थापकों के लगातार हमलों के मद्देनजर यह कदम उठाया है। कंपनी के निदेशक मंडल ने सीईओ के इस्तीफे का दोष इन्फोसिस के सह संस्थापक एन आर नारायणमूर्ति पर मढ़ा है। कंपनी ने कहा है कि वह 31 मार्च, 2018 तक विशाल सिक्का का उत्‍तराधिकारी ढूंढ लेगी। सीईओ पद के लिए इन्फोसिस के भीतर और बाहर उपयुक्त व्यक्ति की तलाश की जाएगी।

यह भी पढ़ें : इन्‍फोसिस की 13 हजार करोड़ रुपए के शेयरों की पुनर्खरीद योजना को मंजूरी, कंपनी के खिलाफ शुरू हुई अमेरिका में जांच

प्रॉक्सी एडवाइजरी फर्म इंस्टिट्यूशनल इन्वेस्टर एडवाइजरी सर्विसेज ने कहा कि कोई भी संभावित उम्मीदवार सार्वजनिक निगरानी और आलोचना को लेकर चिंतित होगा। ऐसे में कोई बाहरी सीईओ बनने को लेकर अधिक खुश नहीं होगा। सलाहकार कंपनी का मानना है कि ऐसे में पुराने चेहरे पर भरोसा जताना अधिक बेहतर होगा। यह आसान चयन होगा पर इसका मतलब शांति बनाने के लिए कुशलता से समझौता होगा। इन्फोसिस के संस्थापक मूर्ति पिछले कई महीने से कंपनी में कथित रूप से कामकाज के संचालन में खामी का मुद्दा उठाते रहे हैं।

करीब तीन दशक पहले मूर्ति ने छह अन्य लोगों के साथ इस कंपनी की स्थापना की थी। कुछ अन्य पूर्व कार्यकारियों के साथ मूर्ति सिक्का को दिए जाने वाले ऊंचे पैकेज को लेकर सवाल उठाते रहे हैं। साथ ही उन्होंने कंपनी के पूर्व मुख्य वित्‍त अधिकारी राजीव बंसल तथा पूर्व जनरल काउंसिल डेविड केनेडी को नौकरी छोड़ने के लिए दिए भारी पैकेज पर भी सवाल उठाया था।

यह भी पढ़ें : एशिया में सबसे अधिक तेजी से बढ़ रहा है भारत का मुद्रा भंडार, सितंबर तक 400 अरब डॉलर पहुंचने की उम्‍मीद : रिपोर्ट

उद्योग के दिग्गज प्रमोद भसीन ने कहा कि,

इन्फोसिस के लिए सीईओ की तलाश अब और मुश्किल होगी। उन्होंने कहा कि यह महत्वपूर्ण होगा कि बोर्ड और इन्फोसिस के नए आने वाले सीईओ शेयरधारकों की आवाज सुनें।

उद्योग से वर्षों से जुड़े गणेश नटराजन ने कहा कि इन्फोसिस को अब सीईओ की तलाश का काम तेज करना चाहिए जिससे लोगों में यह संदेश जाए कि कंपनी में सबकुछ ठीकठाक है। इन्फोसिस ने अभी संभावित उम्मीदवारों के बारे में कुछ नहीं कहा है लेकिन कंपनी के अंतरिम मुख्य कार्यकारी प्रवीण राव, सीएफओ रंगनाथ डी माविनाकेरे, डिप्टी सीओओ रवि कुमार एस और मोहित जोशी को इस पद के लिए दौड़ में माना जा रहा है।

Web Title: आसान नहीं होगी विशाल सिक्का के उत्‍तराधिकारी की तलाश