Live TV
GO
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. अमेरिका ने भारत समेत अन्‍य देशों...

अमेरिका ने भारत समेत अन्‍य देशों को दी चेतावनी, वेनेजुएला से तेल खरीदने पर भुगतना होगा बुरा अंजाम

अमेरिका ने कहा कि जो देश और कंपनियां समस्याओं में घिरे राष्ट्रपति निकोलस मादुरो की चोरी का समर्थन करेंगे, उन्हें छोड़ा नहीं जाएगा।

India TV Paisa Desk
Edited by: India TV Paisa Desk 13 Feb 2019, 19:03:19 IST

वॉशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन ने भारत समेत दुनिया के अन्य देशों को वेनेजुएला से तेल खरीदने को लेकर आगाह किया है। उन्होंने कहा कि जो देश और कंपनियां समस्याओं में घिरे राष्ट्रपति निकोलस मादुरो की चोरी का समर्थन करेंगे, उन्हें छोड़ा नहीं जाएगा। 

बोल्टन ने मंगलवार को ट्विटर पर यह चेतावनी दी। उन्होंने लैटिन अमेरिकी देश की सरकारी कंपनी पीडीवीएसए के अध्यक्ष मैनुएल क्यूवेदो के बयान के एक दिन बाद यह बात कही। क्यूवेदो ने ग्रेटर नोएडा में आयोजित पेट्रोटेक सम्मेलन के दौरान कहा था कि पाबंदी झेल रहा उनका देश अधिक मात्रा में कच्चा तेल भारत को बेचना चाहता है।

अमेरिका ने वेनेजुएला के कच्चे तेल के निर्यात पर अंकुश लगाने के इरादे से पीडीवीएसए पर पाबंदी लगाई है और समाजवादी राष्ट्रपति मादुरो पर पद से हटने का दबाव बना रहा है। भारत को तेल आपूर्ति के मामले में वेनेजुएला तीसरा सबसे बड़ा देश है। 

क्यूवेदो की भारत यात्रा पर प्रतिक्रिया देते हुए बोल्टन ने कहा कि जो देश और कंपनियां वेनेजुएला के संसाधन की चोरी करने वाले मादुरो का समर्थन करेंगे, उन्हें नहीं भूला जाएगा। क्यूवेदो की अधिक तेल बेचने को लेकर भारत यात्रा की खबर साझा करते हुए उन्होंने ट्विटर पर लिखा है, वेनेजुएला के लोगों की संपत्ति सुरक्षित रखने के लिए अमेरिका अपनी सभी शक्तियों का उपयोग करेगा। हम अन्य देशों को को भी ऐसा करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।  

वेनेजुएला प्रतिदिन 15.7 लाख बैरल तेल का उत्‍पादन करता है। दो दशक पहले होने वाले उत्‍पादन की तुलना में यह लगभग आधा है। अमेरिका द्वारा वेनेजुएला से तेल का आयात रोकने के बाद, पीडीवीएसए चीन और भारत जैसे बड़े उपभोक्‍ता देशों को अपना तेल बेचने की कोशिश कर रही है।  

Web Title: US warns countries, including India, against buying Venezuelan oil | अमेरिका ने भारत समेत अन्‍य देशों को दी चेतावनी, वेनेजुएला से तेल खरीदने पर भुगतना होगा बुरा अंजाम