Live TV
GO
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. अमेरिका ने WTO से कहा कि...

अमेरिका ने WTO से कहा कि गेहूं और चावल पर सब्सिडी की सीमा तोड़ रहा है भारत, जून में चर्चा की है उम्मीद

अमेरिका ने भारत पर विश्व व्यापार संगठन (WTO) में आरोप लगाया है कि वह गेहूं और चावल पर दिए जा रहे अपने बाजार मूल्य समर्थन को उल्लेखनीय रूप से कम कर दिखा रहा है।

Manish Mishra
Edited by: Manish Mishra 10 May 2018, 16:56:37 IST

वाशिंगटन। अमेरिका ने भारत पर विश्व व्यापार संगठन (WTO) में आरोप लगाया है कि वह गेहूं और चावल पर दिए जा रहे अपने बाजार मूल्य समर्थन को उल्लेखनीय रूप से कम कर दिखा रहा है। अमेरिका के व्यापार प्रतिनिधि रॉबर्ट लाइटहाइजर और कृषि मंत्री सोनी परड्यू ने संयुक्त बयान में कहा कि अमेरिका ने WTO की कृषि विषयक समिति (COA) के समक्ष भारत के गेहूं और चावल पर बाजार मूल्य समर्थन (MPS) के मुद्दे पर 4 मई को जवाबी रिपोर्ट दाखिल की है।

कृषि व्यापार पर WTO के समझौते के बाद इस समिति के सामने किसी देश के खिलाफ किसी अन्य देश की ओर जवाबी रिपोर्ट किए जाने की पहली घटना है। यह किसी दूसरे देश द्वारा किए गए उपायों को लेकर कृषि पर WTO करार के तहत पहली अधिसूचना है।

बयान में कहा गया है कि भारत सरकार द्वारा इन दोनों कृषि जिंसों पर दी जा रही सहायता व्यापार में विकृति पैदा करने वाली घरेलू सब्सिडी के लिए तय अधिकतम सीमा से कहीं ऊंची है। मीडिया को जारी बयान में कहा गया है कि अमेरिका इस मुद्दे पर सीओए की जून में होने वाली अगली बैठक में विस्तार से विधिवत चर्चा कराना चाहता है।

Web Title: अमेरिका ने WTO से कहा कि गेहूं और चावल पर सब्सिडी की सीमा तोड़ रहा है भारत, जून में चर्चा की है उम्मीद