Live TV
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. सर्विस बिजनेस को रफ्तार देने के...

सर्विस बिजनेस को रफ्तार देने के लिए दक्षिण एशिया को मिलकर काम करने की जरूरत: सचिव

दक्षिण एशियाई देशों को सर्विस बिजनेस में मजबूत कारोबारी एजेंडे के साथ मिलकर काम करने की जरूरत है क्योंकि इसमें दक्षेस देशों में काफी संभावना है।

Dharmender Chaudhary
Dharmender Chaudhary 24 Apr 2016, 10:32:48 IST

ग्रेटर नोएडा। वाणिज्य सचिव रीता तेवतिया ने कहा कि दक्षिण एशियाई देशों को सर्विस बिजनेस में मजबूत कारोबारी एजेंडे के साथ मिलकर काम करने की जरूरत है क्योंकि इसमें दक्षेस देशों में काफी संभावना है। उन्होंने यहां कहा, दक्षेस देशों को भौगोलिक रूप से नजदीकी, सांस्कृतिक समरूपता और आर्थिक समपूरक होने का लाभ उठाने के लिए मजबूत कारोबारी एजेंडे के साथ मिलकर काम करने की जरूरत है।

वाणिज्य सचिव ने सर्विस पर वैश्विक प्रदर्शनी के समापन सत्र को संबोधित कर रही थी। दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन (दक्षेस) के सदस्य देश अब तक क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा देने पर जोर देते रहे हैं। रीता ने कहा कि भारत इस मामले में दायरे को बढ़ाने पर गौर कर रहा है ताकि हम अपने क्षेत्र में इन अवसरों को वास्तविक रूप दे सके और समृद्धि तथा आर्थिक विकास के स्तर में सुधार ला सके। सरकार दूसरे क्षेत्रों में भी काम कर रही है। सर्विस बिजनेस को गति देने के लिये माहौल में सुधार को लेकर मानकों को तैयार करने के साथ विभिन्न विभागों एवं राज्यों के साथ काम कर रही है।

रीता ने कहा कि जहां भारत सबसे बड़ा सेवा निर्यातक है, उसकी वैश्विक व्यापार में हिस्सेदारी कम है। मंत्रालय गुणवत्ता और मानकों पर ध्यान देने के साथ क्षेत्र के निर्यात को गति देने के लिए कई उपायों पर विचार कर रहा है। वाणिज्य सचिव ने कहा, हम अपने व्यापार समझौतों में इस क्षेत्र को बढ़ावा देने को लेकर काफी गंभीर रहे हैं। हम सुधार एवं उदारीकरण के रूप में विभिन्न क्षेत्रों में प्रतिस्पर्धा के मुद्दे और व्यापार नीति पर ध्यान देते रहे हैं। वाणिज्य सचिव रीता तेवतिया ने कहा, हम अपने सहयोगी मंत्रियों, क्षेत्र की विभिन्न एजेंसियों तथा निर्यातकों के साथ मिलकर इस दिशा में काम कर रहे हैं ताकि हमारे पास कुछ ऐसे स्पष्ट क्षेत्र हों जहां सुधार के एजेंडे को रेखांकित किया गया है।

Web Title: सर्विस बिजनेस के लिए दक्षिण एशिया को मिलकर काम करने की जरूरत