Live TV
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. ऑड-ईवन फॉर्मूला के दूसरे चरण में...

ऑड-ईवन फॉर्मूला के दूसरे चरण में टैक्सी कंपनियां देंगी फ्री राइड और बोनस

शुक्रवार से शुरू हो रही दूसरे चरण की ऑड-ईवन फॉर्मूला को भुनाने के लिए कंपनियां ऑफर लेकर आई है। कंपनियां इसको अवसर के रूप में देख रही हैं।

Dharmender Chaudhary
Dharmender Chaudhary 15 Apr 2016, 8:26:32 IST

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में ऑड-ईवन फॉर्मूला आज से लागू हो गया है। इसको भुनाने के लिए कंपनियां ऑफर लेकर आई है। एप आधारित टैक्सी सर्विस देने वाली कंपनियां इसको अवसर के रूप में देख रही हैं। कई कंपनियों ने नए एप और पैकेज की घोषणा की है। यात्रा सुविधा उपलब्ध कराने वाली एप्स 360 राइड और रैपिडो ने मुफ्त यात्रा की पेशकश के अलावा अपने परिचालन को बढ़ाने का फैसला किया है जिससे यात्रियों की बढ़ती मांग को पूरा किया जा सके।

बाइक टैक्सी परिचालक रैपिडो ने कहा है कि वह हौजखास और मालवीय नगर मेट्रो स्टेशन से औतथा मेट्रो स्टेशन तक 15 से 30 अप्रैल के दौरान मुफ्त यात्रा सुविधा उपलब्ध कराएगी। बेंगलुर की स्टार्ट अप 360 राइड जो निजी वाहन मालिकों के लिए राइड शेयरिंग प्लेटफार्म उपलब्ध कराती है ने कहा कि वह लोगों को कारों और दोपहिया पर राइड शेयरिंग के लिए प्रोत्साहित करेगी। 360 राइड के मुख्य कार्यकारी एवं सह संस्थापक लोकेश बेवारा ने कहा, सम विषम का मकसद देश में यातायात की भीड़भाड़ को कम करना है। राइड एंड अर्न कार्यक्रम का मकसद शहर में राइड शेयरिंग को प्रोत्साहन देना है।

शटल बसों को जोड़ने वाले एप आधारित प्लेटफार्म शटल को उम्मीद है कि सम विषम के दूसरे चरण में ऐसी सेवाओं की मांग 50 प्रतिशत बढेगी। शटल ने जनवरी में पहले चरण के बाद से 100 और बसे जोड़ी है और उसकी संख्या 500 तक पहुंच गयी है। शटल के सह संस्थापक अमित सिंह ने कहा, पिछले चरण में हमें बहुत कुछ सीखने को मिला जिससे हम तकनीक आधारित सार्वजनिक यातायात में सचमुच सुधार कर सकते हैं। एप के जरिए टैक्सी बुलाने में सहायक मंच ओला ने कहा है कि उसकी साझा टैक्सी की मांग में खास कर सुबह 9-12 और शाम 4-8 बजे के व्यस्त समय में काफी बढोतरी देखने को मिली है। दिल्ली में प्रदूषण कम करने के लिए प्रयोग के तौर पर सम विषय का पहला दौर 1-15 जनवरी तक चलाया गया था। दूसरा चरण 15 अप्रैल से शुरू किया जा रहा है।

Web Title: ऑड-ईवन फॉर्मूला के दूसरे चरण को भुनाने में जुटी टैक्सी कंपनियां