Live TV
GO
Hindi News पैसा बिज़नेस शक्तिकांत दास ने संभाला RBI गवर्नर...

शक्तिकांत दास ने संभाला RBI गवर्नर का पद, कई सरकारों के साथ काम करने का अनुभव आएगा काम

आर्थिक मामलों के पूर्व सचिव शक्तिकांत दास ने बुधवार को भारतीय रिजर्व बैंक के 25वें गवर्नर के रूप में पदभार संभाला।

India TV Paisa Desk
India TV Paisa Desk 12 Dec 2018, 15:24:57 IST

नई दिल्ली। आर्थिक मामलों के पूर्व सचिव शक्तिकांत दास ने बुधवार को भारतीय रिजर्व बैंक के 25वें गवर्नर के रूप में पदभार संभाला। वह उर्जित पटेल का स्थान लेंगे। पटेल ने सोमवार को निजी कारणों का हवाला देते हए अपने पद से अचानक इस्तीफा दे दिया था। वह 1990 के बाद पहले ऐसे आरबीआई गवर्नर हैं जिन्होंने अपना कार्यकाल समाप्त होने से पहले इस्तीफा दिया है।

हाल में पटेल और सरकार के बीच आरबीआई की स्वायत्ता के मुद्दे पर काफी तनाव देखा गया था। दास ने एक ट्वीट कर कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर की जिम्मेदारी संभाली। आप सभी का शुभकामनाओं के लिए धन्यवाद। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने दास को आरबीआई के शीर्ष पद के लिए सही साख वाला व्यक्ति बताया। 

जेटली ने कहा कि दास एक बहुत वरिष्ठ और अनुभवी नौकरशाह रहे हैं। उनका पूरा कामकाजी जीवन लगभग देश के आर्थिक और वित्तीय प्रबंधन में गुजरा है, भले ही वह भारत सरकार के वित्त मंत्रालय में कार्यरत रहे हों या तमिलनाडु में राज्य सरकार के साथ काम किया हो। दास तमिलनाडु कैडर से पूर्व भारतीय प्रशासनिक सेवा अधिकारी हैं। वह आरबीआई के 25वें गवर्नर नियुक्त किए गए हैं। जेटली ने कहा कि पटेल के इस्तीफा देने के बाद उनकी नियुक्ति जरूरी थी। उनके हिसाब से दास इस काम के लिए एक दम सही व्यक्ति हैं। वह बहूत ही पेशेवर हैं और कई सरकारों के साथ काम कर चुके हैं। 

वह वर्तमान में 15वें वित्‍त आयोग के सदस्‍य और जी20 में भारत के शेरपा हैं। उन्‍हें यह जिम्‍मेदारी 27 नवंबर 2017 को सौंपी गई थी। पीएम मोदी ने शुरुआत में दास को वित्‍त मंत्रालय में राजस्‍व सचिव की जिम्‍मेदारी सौंपी थी, बाद में उन्‍हें आर्थिक मामलों की जिम्‍मेदारी दी गई। आर्थिक मामलों के सचिव रहते हुए दास ने प्रधानमंत्री के विवादित नोटबंदी अभियान को लागू करने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाई थी।

उन्‍होंने आर्थिक मामलों के सचिव, राजस्‍व सचिव और उर्वरक सचिव जैसे महत्‍वपूर्ण पदों पर काम किया है। दास का जन्म 26 फरवरी 1957 को ओडिशा में हुआ था। उन्होंने इतिहास में ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की है।

More From Business