Live TV
GO
Hindi News पैसा बिज़नेस शाओमी की चमक पड़ी फीकी, 6...

शाओमी की चमक पड़ी फीकी, 6 महीने बाद सैमसंग फिर बनी भारत की नंबर-1 मोबाइल कंपनी

भारतीय बाजार में नंबर 1 की पोजिशन के लिए दो दिग्‍गज कंपनियों के बीच टक्‍कर जारी है। पिछली दो तिमाही तक देश की नंबर 1 मोबाइल कंपनी होने का तमगा हासिल करने के बाद शाओमी एक बार फिर से सैमसंग से पिछड़ गई है।

Sachin Chaturvedi
Sachin Chaturvedi 25 Jul 2018, 11:41:28 IST

नई दिल्‍ली। भारतीय बाजार में नंबर 1 की पोजिशन के लिए दो दिग्‍गज कंपनियों के बीच टक्‍कर जारी है। पिछली दो तिमाही तक देश की नंबर 1 मोबाइल कंपनी होने का तमगा हासिल करने के बाद शाओमी एक बार फिर से सैमसंग से पिछड़ गई है। काउंटरपॉइंट रिसर्च के ताजा डेटा के मुताबिक सैमसंग इस साल की दूसरी तिमाही में फिर से देश की सबसे बड़ी मोबाइल निर्माता कंपनी बन गई है। रिपोर्ट के अनुसार भारतीय स्मार्टफोन बाजार में इस साल 18 प्रतिशत दर से बढ़ोत्‍तरी हुई है। बाजार में सैमसंग की‍ हिस्‍सेदारी इस समय 29 फीसदी है। वहीं शाओमी की हिस्‍सेदारी 28% है। ऐसे में 1% के मामूली अंतर से सैमसंग शाओमी से आगे निकल गई है।

इससे पिछली तिमाही की बात करें तो इस दौरान सैमसंग की भारतीय बाजार में हिस्‍सेदारी 24% थी। सैमसंग और शाओमी के बाद तीसरे पायदान पर एक और चीनी कंपनी वीवो थी। जिसकी भरतीय बाजार में हिस्‍सेदारी 12% रही। इसके बाद ओप्‍पो 10% के शेयर के साथ चौथी सबसे बड़ी कंपनी बनी। भारत में हुवावे के स्‍मार्टफोन ब्रांड ऑनर 3% शेयर के साथ 5वें नंबर पर है। रिपोर्ट के मुताबिक इन टॉप के 5 स्मार्टफोन ब्रांड की भारतीय बाजार में हिस्‍सेदारी 82% के आसपास है।

ग्रोथ की बात करें तो चीनी कंपनी वनप्‍लस 284% के साथ पहले नंबर पर है तो ऑनर 188% के साथ दूसरे और शाओमी 112% के साथ तीसरे नंबर पर है। अगर इन परिणामों की साल 2017 की दूसरी तिमाही से तुलना की जाए तो ऑनर ने अपने मार्केट शेयर में 1% की बढ़ोतरी की है। ओप्पो बिना बदलाव के 10% पर काबिज है और वीवो का मार्केट शेयर 1% गिरा है।

More From Business