Live TV
GO
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. रिलायंस इंडस्ट्री 100 अरब डॉलर के...

रिलायंस इंडस्ट्री 100 अरब डॉलर के क्लब में शामिल, TCS के बाद देश की दूसरी बड़ी कंपनी

मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्री भी 100 अरब डॉलर के क्लब में शामिल हो गई है। गुरुवार को शेयर बाजार में रिलायंस इंडस्ट्री के शेयर में आई तेजी की वजह से कंपनी के बाजार मूल्य में जोरदार बढ़ोतरी हुई है और यह 100 अरब डॉलर की कंपनी बन चुकी है, रिलायंस इंडस्ट्री से पहले इस मुकाम तक टाटा ग्रुप की कंपनी TCS पहुंची है।

Manoj Kumar
Reported by: Manoj Kumar 12 Jul 2018, 12:55:57 IST

नई दिल्ली। मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्री भी 100 अरब डॉलर के क्लब में शामिल हो गई है। गुरुवार को शेयर बाजार में रिलायंस इंडस्ट्री के शेयर में आई तेजी की वजह से कंपनी के बाजार मूल्य में जोरदार बढ़ोतरी हुई है और यह 100 अरब डॉलर की कंपनी बन चुकी है, रिलायंस इंडस्ट्री से पहले इस मुकाम तक टाटा ग्रुप की कंपनी TCS पहुंची है।

गुरुवार को शेयर बाजार में रिलायंस इंडस्ट्री के शेयर ने 1091 की रिकॉर्ड ऊंचाई को छुआ है, शेयर में आई तेजी की वजह से कंपनी के बाजार मूल्य में भी तेजी से बढ़ोतरी देखने को मिली है, कंपनी का बाजार मूल्य लगभग 6.9 लाख करोड़ रुपए के करीब पहुंच गया है। जो लगभग 100 अरब डॉलर से ज्यादा है। दूसरी तरफ देश की सबसे बड़ी कंपनी टीसीएस की बात करें तो उसका बाजार मूल्य 7.5 लाख करोड़ रुपए को पार कर चुका है।

दरअसल रिलायंस इंडस्ट्री की तरफ से जल्दी ही जून तिमाही के लिए तिमाही नतीजे घोषित होंगे, बाजार के जानकार इस बार जून तिमाही में कंपनी को अच्छा मुनाफा होने की उम्मीद जता रहे है जिस वजह से निवेशक रिलायंस इंडस्ट्री के शेयर में दबा कर खरीदारी कर रहे हैं। निवेशकों और कारोबारियों की खरीदारी बढ़ने की वजह से कंपनी के शेयर में उछाल आया है और कंपनी के बाजार मूल्य में भी बढ़ोतरी हुई है।

रिलायंस इंडस्ट्री के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने ने पिछले हफ्ते अपनी सालाना जनरल बैठक में रिलायंस जियो को लेकर कई घोषणाएं की हैं, कंपनी अब केबल टेलिविजन कारोबार में एंट्री लेने जा रही है साथ में ई-कॉमर्स में भी उतरने जा रही है। निवेशक और कारोबारी कंपनी नए प्रोजेक्ट्स को लेकर काफी उत्साहित दिख रहे हैं और कंपनी के शेयरों में खरीदारी कर रहे हैं।

Web Title: रिलायंस इंडस्ट्री 100 अरब डॉलर के क्लब में शामिल, TCS के बाद देश की दूसरी बड़ी कंपनी