Live TV
GO
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. देश में सिर्फ 30 प्रतिशत लोग...

देश में सिर्फ 30 प्रतिशत लोग ही रोजाना करते हैं डिओडरेंट का इस्तेमाल, ऊंची कीमत है सबसे बड़ी बाधा

रिपोर्ट में सामने आया है कि सिर्फ 30 फीसदी लोग नियमित रूप से डिओडरेंट का इस्तेमाल करते हैं, ज्यादातर लोग ऊंची कीमत की वजह से कभी-कभी इस्तेमाल करते हैं।

Abhishek Shrivastava
Abhishek Shrivastava 28 Jan 2017, 13:31:49 IST

नई दिल्ली। शरीर की दुर्गंध आपके लिए सामाजिक तौर पर बड़ी चुनौतियां खड़ी कर सकती है। इस बीच एक हालिया रिपोर्ट में सामने आया है कि सिर्फ 30 फीसदी लोग नियमित रूप से डिओडरेंट का इस्तेमाल करते हैं, जबकि ज्यादातर लोग इसकी ऊंची कीमत की वजह से कभी-कभी इस्तेमाल करते हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है,

करीब 30 फीसदी जवाब देने वालों ने कहा कि वह रोजाना डिओडरेंट का इस्तेमाल करते हैं। जवाब देने वालों में 70 फीसदी ने कहा कि डिओडरेंट का इस्तेमाल कभी-कभी करते हैं और इसके लिए बाजार में इस उत्पाद की कीमत को जिम्मेदार ठहराया।

  • बड़ी संख्या में उत्तरदाताओं ने कहा कि वे डिओडरेंट उत्पादों का इस्तेमाल नियमित रूप से करेंगे यदि ये उत्पाद मौजूदा कीमत से सस्ते होंगे।
  • सिंथोल डियोस्टिक ने एसी निल्सन के सहयोग से ‘भारत में डिओडरेंट के इस्तेमाल रिपोर्ट को जारी किया।
  • इसमें उत्तर, पश्चिम और दक्षिण भारत से युवा पुरुष और महिलाओं ने शरीर की गंध और डिओडरेंट के इस्तेमाल पर अपने विचार सर्वेक्षण में रखे।
  • करीब 87 फीसदी उत्तरदाताओं का मानना है कि उनका सामाजिक विश्वास उनके व्यक्तिगत प्रस्तुति से जुड़ा हुआ है।
  • करीब 51 फीसदी लोगों ने सर्वेक्षण में कहा कि वह डिओडरेंट के बारे में जानते हैं, लेकिन अधिक मूल्य के कारण खरीद नहीं सकते।
Web Title: देश में सिर्फ 30 प्रतिशत लोग ही रोजाना करते हैं डिओडरेंट का इस्तेमाल
  • Related Tags: