Live TV
GO
Hindi News पैसा बिज़नेस डाटा लीक मामला : फेसबुक के...

डाटा लीक मामला : फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग ने मांगी माफी, बोले-गलत इस्‍तेमाल रोकने के लिए उठाएंगे कदम

डाटा लीक मामले में फेसबुक के चीफ एक्‍जीक्‍यूटिव ऑफिसर मार्क जकरबर्ग ने गुरुवार को अपनी गलती कबूल करते हुए दो अरब फेसबुक यूजर्स से माफी मांगी है। उन्‍होंने स्‍वीकार किया कि उनकी कंपनी से गलती हुई है।

Manish Mishra
Manish Mishra 22 Mar 2018, 11:42:12 IST

वॉशिंगटन। डाटा लीक मामले में फेसबुक के चीफ एक्‍जीक्‍यूटिव ऑफिसर मार्क जकरबर्ग ने गुरुवार को अपनी गलती कबूल करते हुए दो अरब फेसबुक यूजर्स से माफी मांगी है। उन्‍होंने स्‍वीकार किया कि उनकी कंपनी से गलती हुई है। इसके साथ ही उन्‍होंने यह भी कहा कि भविष्‍य में किसी के व्‍यक्तिगत डाटा का अनुचित इस्‍तेमाल रोकने के लिए ठोस कदम उठाए जाएंगे। 5 करोड़ फेसबुक यूजर्स के डाटा का ब्रिटिश कंपनी द्वारा अनुचित इस्‍तेमाल करने के मामले में उन्‍होंने कहा कि वह अमेरिकी कांग्रेस के सामने इसका जवाब देने को तैयार हैं। आपको बता दें कि 2017 में अमेरिका में राष्‍ट्रपति चुनाव के दौरान कैंब्रिज एनालिटिका नाम की कंपनी ने डोनाल्‍ड ट्रंप के हित के लिए 5 करोड़ फेसबुक यूजर्स के पर्सनल डाटा का इस्‍तेमाल किया था।

सूचना प्रौद्योगिकी और कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने बुधवार को कहा था कि सरकार प्रेस, भाषण और अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा समर्थन करती है। साथ ही वह सोशल मीडिया पर विचारों के मुक्त आदान प्रदान का भी समर्थन करती है। प्रसाद ने कहा कि फेसबुक सहित कोई भी सोशल मीडिया साइट यदि अनुचित तरीके से देश की चुनाव प्रक्रिया को प्रभावित करने का प्रयास करती है, तो उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

प्रसाद ने चेतावनी देते हुए कहा था कि मार्क जुकरबर्ग आप बेहतर तरीके से जान लें, हम भारत में एफबी प्रोफाइल का स्वागत करते हैं, लेकिन एफबी प्रणाली के जरिए यदि भारतीयों के किसी आंकड़े की चोरी की जाती है तो इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। आईटी कानून में हमारे पास काफी अधिकार हैं, हम इनका इस्तेमाल करेंगे। आपको भारत में समन भी किया जा सकता है।

मार्क जकरबर्ग ने अपने फेसबुक पोस्‍ट में लिख है कि फेसबुक की शुरुआत मैंने ही की थी और इस प्लैटफॉर्म पर जो भी होता है उसके लिए अंत में मैं ही जिम्‍मेदार हूं। यूजर्स के फेसबुक डाटा के लीक होने को लेकर मैं काफी गंभीर हूं। उन्‍होंने आगे लिखा है कि अब हमारी कंपनी को बुहत कुछ करने की जरूरत है। हमने गलती की है। हम जरूरी कदम उठाएंगे और हम ऐसा कर भी रहे हैं।

उन्‍होंने कहा कि फेसबुक यूजर्स से जुड़ी किसी भी तरह की जानकारी देने से पहले हम ऐप्‍स की जांच करेंगे। अगर किसी ऐप की गतिविधि संदेहास्‍पद होती है तो उसका ऑडिट कराया जाएगा। अगर कोई डेवलपर ऑडिट के लिए तैयार नहीं होगा तो हम ऐसे ऐप को फेसबुक प्‍लैटफॉर्म उपलब्‍ध ही नहीं कराएंगे। जकरबर्ग ने कहा कि अगले महीने से फेसबुक अपने यूजर्स को न्‍यूज फीड में सबसे ऊपर टूल प्रदर्शित करेगा जिसका इस्‍तेमाल यूजर्स कर चुके हैं। इसके जरिए फेसबुक यूजर्स ऐप को दी गई परमिशन कैंसल कर सकते हैं।

More From Business