Live TV
GO
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. IRDAI के डाटाबेस में शामिल होंगे...

IRDAI के डाटाबेस में शामिल होंगे बीमा एजेंट और मार्केटिंग फर्म के आंकड़े, डुप्‍लीकेशन रोकना है इसका उद्देश्‍य

IRDAI ने हाल ही में एक केंद्रीय डाटाबेस तैयार किया है और जल्द ही इसमें बीमा मार्केटिंग कंपनियों और एजेंटों का डाटाबेस भी शामिल होगा।

Manish Mishra
Manish Mishra 28 Aug 2017, 11:54:13 IST

नई दिल्ली भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (IRDAI) ने हाल ही में एक केंद्रीय डाटाबेस तैयार किया है और जल्द ही इसमें बीमा मार्केटिंग कंपनियों और एजेंटों का डाटाबेस भी शामिल होगा। इसका मकसद डाटा के डुप्‍लीकेशन को रोकना है क्योंकि जो लोग बीमा प्रोडक्‍ट्स बेचते हैं वह कई बीमा कंपनियों या उसी श्रेणी की मध्यस्थ कंपनियों के साथ काम नहीं करते हैं। भारतीय बीमा सूचना ब्यूरो (IIB) ने इस केंद्रीय डाटाबेस को तैयार किया है। अभी इस डेटाबेस में प्‍वाइंट ऑफ सेल पर्सन, कॉरपोरेट एजेंट, पात्र बीमा ब्रोकर और वेब आधारित मान्यता प्राप्त विक्रेताओं को शामिल किया गया है।

यह भी पढ़ें : डिजिटल पेमेंट करने पर सरकार GST में दे सकती है 2% की छूट, विभिन्‍न सरकारी विभाग इस पर कर रहे हैं विचार

IRDAI ने बीमा कंपनियों से कहा है कि वह उन लोगों की जानकारी भी इस पर अपलोड करें जो उनके लिए काम करते हैं। IRDAI ने कहा कि इस डाटाबेस पोर्टल के अंतिम चरण में बीमा मार्केटिंग कंपनियों, एजेंटों और बची हुई श्रेणियों को इसके तहत लाया जाएगा। हमें उम्मीद है कि यह जल्द ही तैयार हो जाएगा। डुप्‍लीकेशन को रोकने के लिए बीमा एजेंटों को अपनी आधार जानकारी डेटाबेस पर डालनी होगी।

यह भी पढ़ें : कॉरपोरेट मंत्रालय के अधीन आने वाले SFIO को मिला गिरफ्तारी का अधिकार, मुखौटा कंपनियों पर कसेगा शिकंजा

Web Title: IRDAI के डाटाबेस में शामिल होंगे बीमा एजेंटों के आंकड़े