Live TV
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. भारत की ईंधन मांग 2016-17 में...

भारत की ईंधन मांग 2016-17 में 7.3 फीसदी बढ़ने की संभावना

भारत में पेट्रोल, डीजल की खपत में तेजी से विस्तार के बीच पेट्रोलियम ईंधन मांग 7.3 फीसदी बढ़ सकती है। इस साल बढ़कर 19 करोड़ 30 हजार टन रह सकती है।

Abhishek Shrivastava
Abhishek Shrivastava 26 Apr 2016, 18:37:05 IST

नई दिल्ली: भारत में पेट्रोल, डीजल की खपत में तेजी से विस्तार के बीच पेट्रोलियम ईंधन मांग वर्ष 2016-17 में 7.3 फीसदी बढ़ सकती है। पेट्रोलियम मंत्रालय के मांग अनुमान के मुताबिक ईंधन की खपत 2015-16 में 10.9 फीसदी बढ़कर 18.35 करोड़ टन रही जो अनुमान है, इस साल खपत बढ़कर 19 करोड़ 30 हजार टन तक जा सकती है।

डीजल की खपत जो पिछले वित्त वर्ष में 7.5 फीसदी बढ़कर 7.46 करोड़ टन हो गई वह और 7.7 फीसदी बढ़कर 7.81 करोड़ टन होने का अनुमान है। चालू वित्त वर्ष में पेट्रोल की खपत 12.4 फीसदी बढ़कर 2.414 करोड़ टन हो जाने का अनुमान है। पेट्रोल की खपत 2015-16 में 14.5 फीसदी बढ़कर 2.18 करोड़ टन रही।

तस्‍वीरों में देखिए क्रूड से जुड़े फैक्‍ट

Facts of Crude oil

Facts of Crude oil

Facts of Crude oil

Facts of Crude oil

Facts of Crude oil

Facts of Crude oil

Facts of Crude oil

IndiaTV Paisa

Facts of Crude oil

Facts of Crude oil

Facts of Crude oil

यह पिछले दो दशक का उच्चतम स्तर है। पेट्रोल एवं डीजल के बीच दाम का फर्क घटने से वाहनों की बिक्री पिछले पांच साल में पिछले साल सबसे तेज रही। इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (IOC) के निदेशक (वित्त) एके शर्मा ने कहा कि पेट्रोल और डीजल की कीमतों का अंतर घटने से लोग पेट्रोल से चलने वाले वाहनों को तरजीह दे रहे हैं।

यह भी पढ़ें- Airfare: हवाई सफर करना होगा और महंगा, तेल कंपनियों ने 12 फीसदी बढ़ाए एटीएफ के दाम

यह भी पढ़ें- भारत की ग्रोथ 2016-17 में 8 फीसदी रहने की उम्मीद, खपत बढ़ने और कच्चे तेल में गिरावट से मिलेगा फायदा

Web Title: भारत की ईंधन मांग 2016-17 में 7.3 फीसदी बढ़ने की संभावना