Live TV
GO
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. पिछले साल 10 लाख करोड़ से...

पिछले साल 10 लाख करोड़ से ज्यादा हुआ प्रत्यक्ष कर संग्रह, वित्‍त वर्ष 2016-17 के मुकाबले 18% रहा ज्‍यादा

बीते वित्त वर्ष में देश में 10 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा प्रत्यक्ष कर संग्रह किया गया जोकि उससे पिछले साल के मुकाबले 18 फीसदी ज्यादा है। यह जानकारी सरकार की ओर से दी गई है।

Manish Mishra
Edited by: Manish Mishra 24 May 2018, 13:40:26 IST

नई दिल्ली बीते वित्त वर्ष में देश में 10 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा प्रत्यक्ष कर संग्रह किया गया जोकि उससे पिछले साल के मुकाबले 18 फीसदी ज्यादा है। यह जानकारी सरकार की ओर से दी गई है। वित्त मंत्रालय ने एक ट्वीट में कहा कि बीते वित्त वर्ष 2017-18 में कुल प्रत्यक्ष कर संग्रह 10.03 लाख करोड़ रहा, जोकि वित्त वर्ष 2016-17 के मुकाबले 18 फीसदी ज्यादा है। मंत्रालय ने कहा कि प्रत्यक्ष कर संग्रह में 18 फीसदी की सालाना वृद्धि पिछले सात साल में सबसे ज्यादा है।

पिछले महीने वित्त सचिव हसमुख अधिया ने कहा कि वित्त वर्ष 2017-18 में भारत का प्रत्यक्ष कर संग्रह पिछले साल के मुकाबले 17.1 फीसदी बढ़कर 9.95 लाख करोड़ हो गया और यह बजट अनुमान के आंकड़े से पहले ही अधिक हो चुका है।

उन्होंने कहा कि ये आंकड़े अस्थाई हैं और कर संग्रह के अंतिम आंकड़े आने पर इसमें परिवर्तन हो सकता है।

Web Title: पिछले साल 10 लाख करोड़ से ज्यादा हुआ प्रत्यक्ष कर संग्रह, वित्‍त वर्ष 2016-17 के मुकाबले 18% रहा ज्‍यादा