Live TV
GO
Hindi News पैसा बिज़नेस GST ने धीमी की पतंजलि की...

GST ने धीमी की पतंजलि की ग्रोथ, पिछले साल जैसा करिश्मा दिखने की उम्मीद कम

बाबा रामदेव के नेतृत्व वाली कंपनी पतंजलि को पिछले वित्त वर्ष में माल एवं सेवाकर (GST) लागू होने से कारोबार में झटका लगा है। पिछले कुछ सालों के दौरान साल-दर-साल तीव्र वृद्धि दर्ज करने वाली पतंजलि को पिछले वित्त वर्ष में मामूली वृद्धि होने का अनुमान है। कंपनी के एक अधिकारी ने यह बात कही

India TV Paisa Desk
India TV Paisa Desk 20 May 2018, 17:44:00 IST

नई दिल्ली। बाबा रामदेव के नेतृत्व वाली कंपनी पतंजलि को पिछले वित्त वर्ष में माल एवं सेवाकर (GST) लागू होने से कारोबार में झटका लगा है। पिछले कुछ सालों के दौरान साल-दर-साल तीव्र वृद्धि दर्ज करने वाली पतंजलि को पिछले वित्त वर्ष में मामूली वृद्धि होने का अनुमान है। कंपनी के एक अधिकारी ने यह बात कही। 

कंपनी के प्रवक्ता एस के तिजारावाला ने कहा कि GST प्रणाली को अपनाने और आधारभूत संरचना एवं आपूर्ति श्रृंखला विकसित करने में पतंजलि को दो महीने लग गये जिसके कारण उसका कारोबार पिछले वित्त वर्ष में महज 10 महीने ही हुआ।  हालांकि, कंपनी पेय जल से लेकर डेयरी उत्पाद तक कई सारे नये उत्पाद बाजार में पेश करने वाली है। उसे इस वित्त वर्ष से तेज आर्थिक वृद्धि के रास्ते पर वापस लौटने की उम्मीद है। 

तिजारावाला ने कहा कि कंपनी शीघ्र ही अपने राजस्व की घोषणा करने वाले हैं। हमने पिछले वित्त वर्ष में मामूली वृद्धि दर्ज की है पर हम वृद्धि के पथ पर बने हुए हैं और कारोबार पिछले वित्त वर्ष के मुकाबले अधिक होगा। कंपनी दिव्य जल भी पेश करने वाली है इसके साथ ही वह शिशु केयर ब्रांड नाम से बच्चों के डायपर बाजार में उतारने वाली है। इसके अलावा वह इस साल वस्त्र एवं परिधान क्षेत्र में भी प्रवेश करने वाली है।

तिजारावाला ने कहा कि पतंजलि पिछले सालों की तरह भविष्य में भी चकित करेगी। उल्लेखनीय है कि वित्त वर्ष 2016-17 में पतंजलि का राजस्व 111 प्रतिशत बढ़कर 10,561 करोड़ रुपये रहा था। कंपनी ने पिछले साल अपना कारोबार बढ़ाकर दोगुना करने की घोषणा की थी। पिछले दो साल से पतंजलि कई नये क्षेत्रों में कारोबार का विस्तार कर रही है। कंपनी ने रोजमर्रा की खपत वाली एफएमसीजी श्रेणी में कई उत्पाद पेश किये हैं।