Live TV
GO
Hindi News पैसा बिज़नेस भारत ने अमेरिकी बाइक से लेकर...

भारत ने अमेरिकी बाइक से लेकर बादाम तक पर बढ़ाया शुल्‍क, डोनाल्‍ड ट्रंप को दिया ऐसे जवाब

भारत ने अमेरिका से आने वाले 30 उत्‍पादों पर शुल्‍क बढ़ाने का फैसला लिया है, इनमें 800 सीसी से अधिक इंजन क्षमता की मोटरसाइकल, ताजा सेब और बादाम आदि शामिल हैं। अमेरिका द्वारा भारतीय स्‍टील और एल्‍युमीनियम निर्यात पर भारी शुल्‍क लगाने के फलस्‍वरूप भारत ने यह पलटवार किया है।

India TV Paisa Desk
India TV Paisa Desk 16 Jun 2018, 16:02:37 IST

नई दिल्‍ली। भारत ने अमेरिका से आने वाले 30 उत्‍पादों पर शुल्‍क बढ़ाने का फैसला लिया है, इनमें 800 सीसी से अधिक इंजन क्षमता की मोटरसाइकल, ताजा सेब और बादाम आदि शामिल हैं। अमेरिका द्वारा भारतीय स्‍टील और एल्‍युमीनियम निर्यात पर भारी शुल्‍क लगाने के फलस्‍वरूप भारत ने यह पलटवार किया है।  

इस मामले से सीधे जुड़े एक सूत्र ने बताया कि 800 सीसी से अधिक इंजन क्षमता वाली मोटरसाइकल पर 50 प्रतिशत शुल्‍क लगेगा, इसी प्रकार बादाम पर 20 प्रतिशत, अखरोट पर 20 प्रतिशत और सेब पर 25 प्रतिशत शुल्‍क लगाया जाएगा। अधिकारी ने कहा कि यह पहली बार है कि भारत ने किसी देश पर प्रतिशोधात्मक शुल्क लगाया है।

बढ़े हुए संशोधित शुल्‍क 21 जून से प्रभावी होंगे। भारत ने बुधवार को अमेरिका को मिली रियायत रद्द करने के अपने फैसले से विश्‍व व्‍यापार संगठन (डब्‍ल्‍यूटीओ) को अवगत करा दिया है। भारत को अपने इस कदम से 23.80 करोड़ डॉलर का शुल्‍क मिलने की उम्‍मीद है।

भारत ने विश्‍व व्‍यापार संगठन से कहा कि यह अधिसूचना संयुक्‍त राज्‍य अमेरिका द्वारा सुरक्षा उपायों के तहत कुछ एल्‍युमीनियम और स्‍टील उत्‍पादों के आयात पर लगाए गए शुल्‍कों के संबंध में जारी की गई है।

मार्च में अमेरिका ने कुछ स्‍टील उत्‍पादों पर 25 प्रतिशत और एल्‍युमीनियम उत्‍पादों पर 10 प्रतिशत शुल्‍क लगाया था। इससे अमेरिका को 24.1 करोड़ डॉलर का अतिरिक्‍त शुल्‍क हासिल करने में मदद मिलेगी। भारत ने कहा है कि जब‍ तक अमेरिका अपने शुल्‍कों को खत्‍म नहीं करता है तब तक उसे भारत द्वारा कोई रियायत नहीं दी जाएगी।

भारत ने 18 मई को डब्‍ल्‍यूटीओ को जानकारी दी है कि उसने मटर, छोले, गेहूं, सोयाबीन तेल, रिफाइंड पामोलिन, कोको पावडर, चॉकलेट उत्‍पाद और गोल्‍फ कार्ट्स सहित 20 उत्‍पादों पर प्रतिशोधात्‍मक शुल्‍क लगाने का निर्णय लिया है। भारत ने अखरोट पर 100 प्रतिशत, पांच टन से अधिक क्षमता वाले ढुलाई वाहन पर 50 प्रतिशत, गोल्‍फ कार्ट्स और स्‍नोमोबाइल्‍स पर 50 प्रतिशत शुल्‍क बढ़ाने का प्रस्‍ताव किया है। इसके अलावा चॉकलेट उत्‍पादों, कोको और कॉफी पर शुल्‍क 10 प्रतिशत बढ़ाने का प्रस्‍ताव है।   

More From Business