Live TV
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. इकोनॉमी में सुस्ती ने भारत-चीन को...

इकोनॉमी में सुस्ती ने भारत-चीन को लाया पास, व्यापार संबंधी मुद्दों को निपटाने पर जोर

इकोनॉमी भारत और चीन के बीच संबंध का मार्ग प्रशस्त कर रही है। जेटली ने कहा कि दोनों व्यापार संबंधी मुद्दों को निपटाने में लगे हैं।

Dharmender Chaudhary
Dharmender Chaudhary 19 Apr 2016, 12:28:55 IST

न्यूयार्क। इकोनॉमी भारत और चीन के बीच संबंध का मार्ग प्रशस्त कर रही है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कही और उन्होंने इस बात पर जोर दिया उस क्षेत्र की दोनों अर्थव्यवस्थाओं में निवेश में बढ़ोतरी हो रही है और व्यापार संबंधी मुद्दों को निपटाया जा रहा है। जेटली ने एशिया सोसायटी में अपने भाषण के दौरान भारत-चीन आर्थिक संबंध पर पूछे गए एक सवाल के जवाब में कहा, जहां तक आर्थिक संबंध (भारत और चीन के बीच) का सवाल है यह दिन-ब-दिन बेहतर हो रहा है।

सीआईआई की भागीदारी में एशिया सोसायटी पालिसी इंस्टीट्यूट में उन्होंने कहा, आपके पास उस क्षेत्र में दो विशाल इकोनॉमी हैं जहां व्यापार बढ़ रहा है, व्यापार संबंधी मुद्दों का समाधान किया जा रहा है, निवेश हो रहा है। जेटली ने जोर दिया कि भारतीय इंडस्ट्री ने चीन में अपने प्रतिष्ठान स्थापित किए हैं और चीन से भी भारत में बड़े पैमाने पर निवेश हुआ था। उन्होंने कहा, जहां तक दोनों देशों के बीच संबंध का सवाल है इकोनॉमी इसका नेतृत्व कर रही है।

भारत और चीन के बीच हवाई संपर्क बेहतर करने की जरूरत के संबंध में जेटली ने कहा कि कई निजी और सरकारी विमानन कंपनियां भारत तथा चीन में परिचालन कर रही हैं और इन विमानन कंपनियों में से किसी को दोनों देशों के बीच सेवा विस्तार के लिए पहल करनी होगी। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया, जापान और अमेरिका के पश्चिमी तट साथ सीधे संपर्क की मिसाल देते हुए कहा कि बस वक्त की बात है कि जब भारत और चीन के बीच एक दो परिचालन सेवाओं के बजाय ज्यादा सीधी उड़ानें शुरू होंगी।

Web Title: इकोनॉमी भारत-चीन संबंध का मार्ग प्रशस्त कर रही है: जेटली