Live TV
GO
Hindi News पैसा बिज़नेस पारा चढ़ने के साथ कूलर बाजार...

पारा चढ़ने के साथ कूलर बाजार गर्माया, बिक्री में दोहरे अंकों में वृद्धि की उम्मीद

पारा चढ़ने के साथ ही राजधानी में कूलर का बाजार गर्मा गया है। देशभर में बढ़ते तापमान के साथ एयर कूलर निर्माताओं को उम्मीद है कि इस मौसम में उनकी बिक्री में दोहरे अंकों में वृद्धि दर्ज की जाएगी।

Bhasha
Bhasha 03 Jun 2019, 6:56:07 IST

नयी दिल्ली। पारा चढ़ने के साथ ही राजधानी में कूलर का बाजार गर्मा गया है। देशभर में बढ़ते तापमान के साथ एयर कूलर निर्माताओं को उम्मीद है कि इस मौसम में उनकी बिक्री में दोहरे अंकों में वृद्धि दर्ज की जाएगी। ब्रांडेड एयर कुलर निर्माता कंपनियां ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए अपने उत्पादों में इंटरनेट ऑफ थिंग्स (आईओटी), डिजिटल नियंत्रण, कई स्तर पर हवा को शुद्ध करने, कुलिंग पैड, रिमोट सहित कई तरह की नवाचार की पेशकश कर रहे हैं। इसके अलावा वे ब्रांडिंग पर भी खासा जोर दे रही हैं। 

वोल्टास के एमडी एवं सीईओ प्रदीप बख्शी ने बताया कि गर्मी बहुत अधिक होने के कारण इस साल बाजार में पिछले वर्ष की तुलना में धारणा अधिक मजबूत है। हम इस साल दोहरे अंकों में वृद्धि की उम्मीद कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पश्चिम और दक्षिण में एयर कूलर बाजार तेजी से बढ़ रहा है। हालांकि, उत्तर और मध्य भारत में बिक्री संख्या अधिक है।

बजाज इलेक्ट्रॉनिक्स के कार्यकारी अध्यक्ष और भारतीय बाजार में उपभोक्ता उत्पादों के प्रमुख अतुल शर्मा ने भी कुछ इसी प्रकार की राय व्यक्त करते हुए कहा कि हमें इस साल बिक्री के बहुत बेहतर रहने की उम्मीद है। हमें उम्मीद है कि अप्रैल-जून, 2019 के बीच उद्योग 10-15 प्रतिशत की दर से बढ़ेगा। सिंफनी के संस्थापक, चेयरमैन और प्रबंध निदेशक अचल बकेरी ने कहा कि अभी स्पष्ट आंकड़े नहीं मिले हैं लेकिन इस साल अप्रैल में बिक्री पिछले साल के मुकाबले बहुत बेहतर रही। थोक बाजार में कूलर 1,200 से 5,000-6,000 रुपए तक में उपलब्ध हैं। वहीं खुदरा बाजार में इनका दाम 30-40 फीसद तक उंचा है। हालांकि, बाजार में बजाज और सिंफनी जैसी ब्रांडेड कंपनियां भी मौजूद हैं, लेकिन लोकल कूलर से इनका दाम 70 से 80 फीसद तक अधिक होता है।

More From Business