Live TV
GO
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. अब जेपी पावर की बारी, बैंकों...

अब जेपी पावर की बारी, बैंकों ने 30 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने के लिये आमंत्रित की बोलियां

जेपी समूह पर मुसीबत के बादल छंट‍ते नजर नहीं आ रहे हैं। जयप्रकाश पॉवर वेंचर्स लिमिटेड के कर्जदाता बैंकों ने अपनी हिस्‍सेदारी बेचने का फैसला किया है।

Sachin Chaturvedi
Sachin Chaturvedi 28 Aug 2017, 20:19:19 IST

नयी दिल्लीजेपी समूह पर मुसीबत के बादल छंट‍ते नजर नहीं आ रहे हैं। जयप्रकाश पॉवर वेंचर्स लिमिटेड के कर्जदाता बैंकों ने कंपनी में अपनी कुछ बकाया राशि की वसूली के लिये अपनी हिस्‍सेदारी बेचने का फैसला किया है। बैंकों ने कंपनी में कम से कम 30 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने के लिये बोलियां आमंत्रित की हैं। इन कर्जदाताओं ने हिस्सेदारी की बिक्री के लिये एसबीआई कैपिटल मार्केट्स तथा अर्नस्ट एण्ड यंग को काम सौंपा है। संभावित निवेशकों से बोलियां आमंत्रित करने वाले इस दस्तावेज में कर्जदाताओं ने अपनी पहचान नहीं बताई है।

कंपनी की सालाना रिपोर्ट के मुताबिक आईसीआईसीआई बैंक के नेतृत्व वाले समूह में 10 बैंकों ने उसे कर्ज दे रखे हैं और बैंकों के इस समूह की जयप्रकाश पावर वेंचर्स लिमटेड में 51.8 प्रतिशत हिस्सेदारी थी। बैंकों का कंपनी पर कुल 14,916 करोड़ रुपये का कर्ज बकाया था। दस्तावेज के मुताबिक 30 प्रतिशत हिस्सेदारी की खरीदारी करने वाला कंपनी का सबसे बड़ा एकल शेयरधारक होगी।

नौएडा स्थित गौड़ परिवार के स्वामित्व वाली कंपनी में आईसीआईसीआई बैंक की 13.72 प्रतिशत हिस्सेदारी है। जयप्रकाश पॉवर का कारोबार रीयल एस्टेट और अन्य क्षेत्रों में है। गौड़ परिवार की कंपनी में 29.7 प्रतिशत हिस्सेदारी है। बहरहाल इस मुद्दे पर कंपनी के प्रवक्ता ने फोन का कोई जवाब नहीं दिया।

Web Title: अब जेपी पावर की बारी