Live TV
GO
Hindi News पैसा बिज़नेस आखिर आनंद महिंद्रा ने ढूढ़ ही...

आखिर आनंद महिंद्रा ने ढूढ़ ही निकाला जख्‍मी जूतों का ईलाज करने वाले डॉक्‍टर को, अब करेंगे उसके लिए ये काम

सोशल मीडिया पर बहुत अधिक सक्रिय रहने वाले उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने हाल ही में एक ऐसे व्‍यक्ति की फोटो अपने ट्वीटर एकाउंट पर शेयर की है, जिसके बारे में उनका मानना है कि वह मैनेजमेंट छात्रों को पढ़ा सकता है।

India TV Paisa Desk
India TV Paisa Desk 30 Apr 2018, 20:45:52 IST

नई दिल्‍ली। सोशल मीडिया पर बहुत अधिक सक्रिय रहने वाले उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने हाल ही में एक ऐसे व्‍यक्ति की फोटो अपने ट्वीटर एकाउंट पर शेयर की है, जिसके बारे में उनका मानना है कि वह मैनेजमेंट छात्रों को पढ़ा सकता है। महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन ने एक ऐसे व्‍यक्ति का फोटो ट्वीट किया है, जो एक बैनर के सामने बैठा है और उस पर लिखा है जख्‍मी जूतों का अस्‍पताल। महिंद्रा को उसकी मार्केटिंग रणनीति बहुत पसंद आई। महिंद्रा उस व्‍यक्ति के काम को डा. नरसीराम का अस्‍पताल कहा है, जहां जूतों का इलाज किया जाता है। 

तस्‍वीर को शेयर करने के बाद उन्‍होंने लोगों से सोशल मीडिया पर पूछा था कि इस आदमी के बारे में किसी के पास कोई सूचना हो तो बताएं। उन्‍होंने 17 अप्रैल को अपने ट्वीट में लिखा था कि यदि कोई उन्‍हें खोज सकता है और वह अभी भी यह काम कर रहा है तो वह उसके स्‍टार्टअप में छोटा निवेश करना चाहते हैं। अब एक बार फि‍र उन्‍होंने सोशल मीडिया पर दोबारा यह खबर शेयर की है कि उन्‍होंने उस आदमी को ढूढ़ निकाला है।  

28 अप्रैल्‍ को अपने ट्वीट में उन्‍होंने बताया है कि कैसे उनकी टीम ने हरियाणा में उस व्‍यक्ति से मुलाकात की। उन्‍होंने बताया कि हमारी टीम ने हरियाणा में उनसे मुलाकात की और उनसे पूछा कि हम कैसे उनकी मदद कर सकते हैं। वह एक सरल और विनम्र व्‍यक्ति हैं। पैसा मांगने के बजाये उन्‍होंने कहा कि उन्‍हें एक अच्‍छे कार्यस्‍थल की जरूरत है। मैंने मुंबई में अपनी डिजाइन स्‍टूडियो टीम से एक ऐसे कियोस्‍क को डिजाइन करने के लिए कहा है।

महिंद्रा ने आगे लिखा कि टीम के सदस्‍यों ने नरसीराम जी से मुलाकात की और उन्‍हें कियोस्‍क के लिए कुछ आइडिया बताए। हम आप सबसे इन आइडिया पर इनपुट चाहते हैं और आप इन तीन में से किसे पसंद करेंगे। हम कुछ ऐसा डिजाइन करना चाहते हैं जो रोडसाइड वेंडर के लिए काम करने की क्षमत में वृद्धि करे और उन्‍हें आराम भी दे।

More From Business