Live TV
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत...

नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने कहा, देश में अगले तीन साल में बैंक हो जाएंगे अप्रासंगिक

नीति आयोग के मुख्य कार्यपालक अधिकारी अमिताभ कांत ने आज कहा कि भौतिक रूप से बैंक और उनकी शाखाओं में जाना अगले तीन साल में अप्रासंगिक हो जाएगा क्योंकि डाटा खपत और डाटा विश्लेषण से वित्तीय समावेश को और गति मिलेगी।

India TV Paisa Desk
Written by: India TV Paisa Desk 19 Jan 2018, 10:34:42 IST

नयी दिल्ली। नीति आयोग के मुख्य कार्यपालक अधिकारी अमिताभ कांत ने आज कहा कि भौतिक रूप से बैंक और उनकी शाखाओं में जाना अगले तीन साल में अप्रासंगिक हो जाएगा क्योंकि डाटा खपत और डाटा विश्लेषण से वित्तीय समावेश को और गति मिलेगी। 

कांत ने कहा कि बैंकों की शाखाओं में जाना खत्म हो जाएगा...इसका कारण बड़े पैमाने पर डाटा का उपयोग तथा डाटा विश्लेषण है जो वित्तीय समावेश को मजबूत बनाएगा। यहां एक परिचर्चा में भाग लेते हुए उन्होंने कहा कि भारत एकमात्र देश है जहां एक अरब से अधिक लोगों को आधार कार्ड (बायोमेट्रिक) जारी किये गये हैं। अगले तीन साल में भारत में एक अरब से अधिक स्मार्टफोन होगा। 

नीति आयोग के मुख्य कार्यपालक अधिकारी ने यह भी कहा कि देश में मोबाइल डाटा खपत अमेरिका और चीन के संयुक्त डाटा खपत से अधिक है।  परिचर्चा में भाग लेते हुए पेटीएम के संस्थापक विजय शेखर शर्मा ने कहा कि दुनिया में नया बैंकिंग माडल भारत से आएगा और पेटीएम भारत माडल का शुरूआती उदाहरण होगा। 

Web Title: नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने कहा, देश में अगले तीन साल में बैंक हो जाएंगे अप्रासंगिक