Live TV
GO
Hindi News पैसा बिज़नेस आयुष्मान भारत योजना में 85% ग्रामीण...

आयुष्मान भारत योजना में 85% ग्रामीण और 60% शहरी आबादी को मिलेगा इंश्योरेंस, 10 करोड़ से ज्यादा परिवार दायरे में

इस योजना के तहत देश के 10 करोड़ से ज्यादा परिवारों को सालाना 5 लाख रुपए तक का स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध कराया जाएगा

Manoj Kumar
Manoj Kumar 27 Aug 2018, 17:12:02 IST

नई दिल्ली। देश की आधी से ज्यादा आबादी को स्वास्थ्य बीमा लाभ देने के लिए केंद्र सरकार ने जिस आयुष्मान भारत योजना की घोषणा की है उसके तहत देश के 85 प्रतिशत ग्रामीण और 60 प्रतिशत शहरी परिवारों को शामिल किया जाएगा। सोमवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकाश नड्डा ने इस योजना के आधिकारिक पहचान चिन्ह को लॉन्च करने के बाद जानकारी दी है। इस योजना के तहत देश के 10 करोड़ से ज्यादा परिवारों को सालाना 5 लाख रुपए तक का स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध कराया जाएगा।

10 करोड़ से ज्यादा परिवारों को लाभ

स्वास्थ्य मंत्री की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक इस योजना के तहत देश के 10.74 करोड़ गरीब और कमजोर वर्ग के परिवारों को लाभ पहुंचाया जाएगा। परिवार चाहे कितना भी बड़ा क्यों ने हो उसको इस योजना का लाभ दिया जाएगा। इस योजना के लाभ देश के किसी भी कोने में लिए जा सकेंगे। राज्यों को अधिकार दिया गया है कि वह इस योजना का चाहे तो इंस्योरेंस मॉडल, ट्रस्ट मॉडल या फिर दोनो का मिक्स मॉडल लागू कर सकते हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि इस योजना को लागू करने के लिए देश के 29 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने केंद्र के साथ समझौता किया है, उन्होंने बताया कि आयुष्मान भारत की वेबसाइट और मोबाइल एप 5 सितंबर से लॉन्च कर दी जाएगी।

योजना में 1300 पैकेज

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि इस योजना के तहत 1300 अलग-अलग पैकेज और 20 से ज्यादा स्पेशियालिटीज उपलब्ध कराई जाएंगी। उन्होंने बताया कि देश में हेल्थ सिस्टम को सुधारने के लिए हर अस्पताल का नेशनल एक्रिडिएशन बोर्ड फॉर हॉस्पिटल्स एंड हेल्थकेयर प्रोवाइडर्स (NBAH) से मान्यता प्राप्त होना जरूरी है। इस योजना के तहत मौजूदा सभी स्वास्थ्य शर्तें कवर की जाएंगी।

25 सितंबर को आधिकारिक लॉन्च

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त को लालकिए से दिए अपने भाषण में कहा था कि प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना की शुरुआत पंडित दीन दयाल उपाध्याय के जन्मदिवस 25 सितंबर को देशभर में लॉन्च कर दिया जाएगा।

More From Business