Live TV
GO
Hindi News पैसा ऑटो 30 दिन बाद निसान मोटर्स के...

30 दिन बाद निसान मोटर्स के पूर्व प्रमुख घोसन दोबारा हुए गिरफ्तार, विश्‍वास हनन का लगा नया आरोप

करीबी सूत्रों के अनुसार, घोसन को ओमान स्थित निसान डीलरशिप को हस्तांतरित निसान के फंड के अंश का उपयोग करने के आरोपों के संबंध में गिरफ्तार किया गया।

India TV Paisa Desk
India TV Paisa Desk 04 Apr 2019, 10:42:13 IST

टोक्यो। महीने भर पहले जेल से जमानत पर रिहा हुए निसान मोटर कंपनी के पूर्व चेयरमैन कार्लोस घोसन को टोक्यो में अभियोजकों ने गुरुवार को फिर गिरफ्तार कर लिया। वे 100 दिन से भी ज्यादा समय तक जेल में रहे थे।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, कार्लोस को विश्वास हनन के नए आरोपों पर अभियोजन पक्ष द्वारा चौथा गिरफ्तारी वारंट दिया गया था। गुरुवार सुबह, अभियोजकों ने घोसन के आवास पर जाकर उन्हें गिरफ्तार कर लिया और वे उन्हें कार से अपने कार्यालय पूछताछ के लिए ले गए।

करीबी सूत्रों के अनुसार, घोसन को ओमान स्थित निसान डीलरशिप को हस्तांतरित निसान के फंड के अंश का उपयोग करने के आरोपों के संबंध में गिरफ्तार किया गया। ओमान में निसान डीलरशिप सात साल से पिछले साल तक उनका एक परिचित संचालित कर रहा था।

हालिया आरोपों के अनुसार, घोसन ने निसान की बिक्री प्रोत्साहन के नाम पर सीईओ रिजर्व फंड से 3.4 करोड़ डॉलर का भुगतान किया हो सकता है। सूत्रों ने कहा कि वह राशि तब ओमान के विक्रेता द्वारा संचालित एक निवेश कंपनी द्वारा लेबनान में खोले गए एक बैंक खाते से घोसन के परिवार के एक सदस्य के खाते में स्थानांतरित की गई थी।

जेल से रिहा होने के बाद घोसन ने एक लिखित बयान में कहा कि उनकी गिरफ्तारी अपमानजनक तथा विवेकहीन थी। घोसन के बचाव दल ने कहा कि वह राशि घोसन के नीचे काम करने वाले कर्मचारियों के आग्रह पर ओमान भेजी गई थी और डीलर को उनकी कई सालों की सेवा के बदले वैध भुगतान था।