Live TV
GO
  1. Home
  2. लाइफस्टाइल
  3. सैर-सपाटा
  4. दिवाली स्पेशल: विदेशों में इस खास...

दिवाली स्पेशल: विदेशों में इस खास अंदाज और दूसरे नामों के साथ मनाई जाती है दिवाली

भारत के सबसे प्रमुख त्योहार में से एक दिवाली को लेकर भारत के हर कोने में तैयारियां शुरु हो गई है। रोशनी का त्योहार दिवाली का आगाज हो चुका है। दिवाली ही ऐसा मौका होता है जब हम अपने आसपास जितनी ज्यादा हो सके लाइटिंग और दिया का इस्तेमाल करते हैं।

India TV Lifestyle Desk
Written by: India TV Lifestyle Desk 04 Nov 2018, 13:46:53 IST

नई दिल्ली: भारत के सबसे प्रमुख त्योहार में से एक दिवाली को लेकर भारत के हर कोने में तैयारियां शुरु हो गई है। रोशनी का त्योहार दिवाली का आगाज हो चुका है। दिवाली ही ऐसा मौका होता है जब हम अपने आसपास जितनी ज्यादा हो सके लाइटिंग और दिया का इस्तेमाल करते हैं। सिर्फ इतना ही नहीं घर की सफाई, घर को सजाने से लेकर हर चीज का खास ख्याल रखा जाता है। दिवाली का त्योहार सभी लोग अपने-अपने घर पर ही मनाना चाहते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं दुनिया के कई ऐसे देश हैं जहां दिवाली की ही तरह दीपों का त्योहार मनाया जाता है। हालांकि वो इस त्योहार को दिवाली के नाम से ही नहीं बल्कि किसी दूसरे नाम से ही पुकारते हैं। खास बात यह है कि नाम के साथ -साथ इस त्योहार से जुड़ी उनकी मान्यताओं में भी काफी अंतर हैं। आइए जानते हैं किस देश में दिवाली को क्या कहकर पुकारते हैं और क्या है इसके पीछे की मान्यताएं। 

नेपाल और मॉरिशस 
नेपाल और मॉरिशस में भारत की ही तरह दिवाली मनाई जाती है। खास बात यह है कि इस दिन यहां नई दुल्हन के हाथों से दीपक जलवाने की प्रथा है। इस दिन लोग घर में दीये जलाने के साथ माता लक्ष्मी को खुश करने के लिए घर के बाहर रंगोली भी बनाते हैं। भारत की ही तरह इस दिन लोग एक दूसरे को त्योहार की बधाई और उपहार भी देते हैं।

श्रीलंका में दिवाली
भगवान राम के हाथों रावण के वध के बाद विभीषण को लंका का राजा बनाया गया। विभीषण ने रावण वध के बाद लंका वासियों को बुराई पर अच्छाई की जीत के उपलक्ष्य में दीपोत्सव मनाने का आदेश दिया। जिसके बाद से श्रीलंका में अमावस्या के दिन दीपक जलाए जाते हैं। ​

जापान में ओनियो फायर फेस्टिवल
जापान में ओनियो फायर नाम से एक फेस्टिवल मनाया जाता है।माना जाता है कि एक सप्ताह तक चलने वाला यह त्योहार बुरी आत्माओं को भगाने के लिए मनाया जाता है। इस त्योहार में 6 बड़े फायर टॉर्च जलाए जाते हैं। बता दें, यह त्योहार फुकुओका समेत यहां के कई शहरों में जनवरी महीने की शुरुआत में मनाया जाता है। 

म्यांमार में थैडिंगयुट फेस्टिवल
म्यांमार में दीपों का यह त्योहार तीन दिन तक मनाया जाता है।जिसे लाइटिंग फेस्टिवल ऑफ म्यांमार के नाम से पुकारा जाता है।हर साल अक्टूबर में यह त्योहार भगवान बुद्ध और उनके शिष्यों के स्वागत के लिए मनाया जाता है।लोग इस दिन अपने घरों को लाइट्स से सजाते हैं। 

इंग्लैंड में ऑटरी सेंट मैरी फेस्ट
हर साल 5 नवंबर को इंग्लैंड के ऑटरी सेंट मैरी शहर में एक फेस्ट होता है। इस फेस्ट का मुख्य आकर्षण आतिशबाजी होती है।खास बात यह है कि इस फेस्ट की शुरुआत 1605 में हुई थी। 

स्पेन में फालेस
स्पेन में मार्च महीने में फालेस फायर फेस्टिवल मनाया जाता है। जो कि पूरे 5 दिन तक चलता है। लोग इस फेस्टिवल में आतिशबाजी से जुड़े कई करतब दिखाते हैं। 

ईरान में सादेह
करीब 5 दशक से इस फेस्टिवल को ईरान में मनाने की परंपरा है।इस त्योहार को अंधकार और सर्दी पर जीत तथा अग्नि के सम्मान में हर साल जनवरी के अंतिम सप्ताह में सादेह के नाम से मनाया जाता है।

भारत के इन शहरों की दिवाली होती है सबसे खास, पढ़ें पूरी खबर

दिवाली के मौके पर डायबिटीज मरीज भी खा सकते हैं अपनी मर्जी की मिठाई, रुजुता दिवेकर ने दिए खास टिप्स

Diwali Horoscope 7 November 2018: दिवाली के पहले ही मंगल कर रहा है कुंभ राशि पर प्रवेश, इन राशियों पर पड़ेगा असर

Diwali Rangoli 2018: इस दीवाली घर पर बनाएं लेटेस्ट और खूबसूरत रंगोली, देखें सिंपल डिजाइन

दिवाली में होने वाले एयर पॉल्यूशन से फेफड़ों को इस तरह रखें सुरक्षित, फॉलो करें ये आयुर्वेदिक टिप्स

देर रात दिवाली पार्टी में भी आपकी हेल्थ रहेगी सही, फॉलो करें रुजुता दिवेकर की ये टिप्सजार रुपये

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Travel News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Web Title: How Is Diwali Celebrated All Around The World: दिवाली स्पेशल: विदेशों में इस खास अंदाज और दूसरे नामों के साथ मनाई जाती है दिवाली