Live TV
  1. Home
  2. लाइफस्टाइल
  3. जीवन मंत्र
  4. घर पर इस दिशा पर न...

घर पर इस दिशा पर न रखें गमले, होगा नुकसान

गमले आकार में बहुत बड़े भी होते हैं और छोटे भी होते हैं। आचार्य इंदु प्रकाश से जानें दोनों आकार के गमले को रखने की सही दिशा।

India TV Lifestyle Desk
Written by: India TV Lifestyle Desk 28 Aug 2018, 11:18:51 IST

धर्म डेस्क: गमले आकार में बहुत बड़े भी होते हैं और छोटे भी होते हैं। आचार्य इंदु प्रकाश से जानें दोनों आकार के गमले को रखने की सही दिशा। अधिकतर घरों में लोग छोटे आकार के मिट्टी के गमले लगाते हैं, क्योंकि वो वजन में हल्के होते हैं और उनके आस-पास साफ-सफाई करने में ज्यादा परेशानी नहीं आती।

छोटे आकार के गमलों के लिए दिशा
वास्तु शास्त्र के अनुसार छोटे आकार के मिट्टी के गमलों को लगाने के लिये घर के ईशान कोण, यानी उत्तर-पूर्व दिशा का चुनाव करना एक बेहतर ऑप्शन है।  अगर आप ईशान कोण में नहीं लगा सकते हैं, तो थोड़ा उत्तर या पूर्व दिशा की ओर करके भी गमले लगा सकते हैं। ये तो हुई छोटे गमलों को लगाने की बात, वहीं बड़े और भारी मिट्टी के गमलों की बात करें, तो ये अधिकतर बड़े-बड़े बिजनेस पार्क या किसी बड़े बाग-बगीचे में देखने को मिलते हैं। इन्हें लगाने के लिये सही जगह नैऋत्य कोण, यानी दक्षिण- पश्चिम दिशा है। इस दिशा में आप कितने भी भारी गमले लगा सकते हैं। (भूलकर भी घर पर इस दिशा में न लगाएं घड़ी, होगा नुकसान ही नुकसान)

उत्तर-पूर्व दिशा
इस में मिट्टी के छोटे गमले लगाने चाहिए। इस दिशा में मिट्टी के छोटे गमले लगाने से आपको इस दिशा के शुभ फल प्राप्त होंगे। ईशान कोण, यानी उत्तर-पूर्व दिशा में मिट्टी के गमले लगाने से आपको जीवन में कभी अवरोध, यानी मुसीबतों का सामना नहीं करना पड़ेगा। अगर फिलहाल कोई परेशानी आपके जीवन में चल भी रही है तो वो भी जल्द ही दूर हो जायेगी। साथ ही इस दिशा में मिट्टी के गमले अपने हाथों से लगाने पर या खुद से उनकी देखभाल करने पर आपके हाथ हष्ट-पुष्ट रहते हैं। इससे आपके हाथों की मजबूती बरकरार रहती है। साथ ही अगर आपके परिवार में कोई छोटा बेटा है तो उसके जीवन में भी किसी प्रकार की परेशानी नहीं आयेगी और आयेगी भी तो वो उन परेशानियों को सामने से हटाते हुए आगे बढ़ते जायेंगे। (भूलकर भी मंदिर या घर पर न रखें ऐसी मूर्तियां, थम जाएगी तरक्की )

बड़े गमलों को इस दिशा में लगाएं
वास्तु शास्त्र के अनुसार मिट्टी के छोटे गमले लगाने के लिये ईशान कोण और बड़े गमले लगाने के लिये नैऋत्य कोण का चुनाव करना चाहिए। नैऋत्य कोण, यानी दक्षिण-पश्चिम दिशा में मिट्टी के बड़े गमले लगाने से आपको स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ता। इससे आपका स्वास्थ्य अच्छा बना रहता है। खासकर कि आपको पेट संबंधी किसी भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता। साथ ही इससे माता के साथ आपके संबंध अच्छे बने रहते हैं। आपको अपने कामों में अपनी माता से पूरा सहयोग मिलता रहता है। (घर के प्रवेश द्वार पर लगाएं ये पौधा, पैसा खींचा चला आएगा आपके घर )

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी रीड करते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Religion News in Hindi के लिए क्लिक करें khabarindiaTv का लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Web Title: Vastu Shastra with Flowers & Plants Things to Do and Mistakes to Avoid: भूलकर भी घर पर इस दिशा पर न रखें गमले, होगा नुकसान ही नुकसान