Live TV
GO
Hindi News लाइफस्टाइल हेल्थ अगर 1 सप्ताह से ज्यादा रहता...

अगर 1 सप्ताह से ज्यादा रहता है घुटनों पर दर्द तो समझ लें आपको है ये खतरनाक बीमारी, ऐसे करें पहचान

मुख्य रुप से अर्थराइटिस के मरीज को सुबह उठते समय अधिक दर्द, शरीर के जोड़ो में दर्द, टांगों, बाजुओं आदि में दर्द होता है। जानिए इसके लक्षण।

India TV Lifestyle Desk
India TV Lifestyle Desk 25 Sep 2018, 18:15:53 IST

हेल्थ डेस्क: अर्थराइटिस एक ऐसी बीमारी है। जिसमें हमारे जो़ड़ो में दर्द के साथ-साथ अकड़न के अलावा सूजन भी आ जाती है। इस बीमारी में जोड़ों में गठिया बन जाती है। जिसके कारण गठिया रोग भी कहा जाता है। अर्थराइटिस  कई तरह के होता है। इसके खई लक्षण ऐसे होते है जो पहले से ही दिखने लगते है। अगर आपने इन्हें समय़ से ध्यान दिया तो इस खतरनाक बीमारी से समय में निजात पा सकते है।

लेकिन जरुरी नहीं कि अर्थराइटिस के लक्षण इसी के ही हो। वास्तव में आपको क्या बीमारी है वो टेस्ट के बाद ही पता चलती है। (खुद को फिट रखने से कड़ी मशक्कत करती हैं मलाइका अरोड़ा, 44 साल की उम्र में करती हैं हैरान करने वाले वर्कआउट )

मुख्य रुप से अर्थराइटिस के मरीज को सुबह उठते समय अधिक दर्द, शरीर के जोड़ो में दर्द, टांगों, बाजुओं आदि में दर्द होता है। जानिए इसके लक्षण। (खाना खाने के बाद पानी पीना चाहिए या नहीं, डॉक्टर्स की राय )

Arthritis

अर्थराइटिस  के लक्षण

  • अगर आपको बिना चोट या पहले के दर्द के बिना 1 सप्ताह से ज्यादा दर्द रहता है तो यह अर्थराइटिस का कारण हो सकता है। इससे तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।
  • अगर आपको ज्वांइट्स में सूजन आ गई है। जो कि किसी चोट के कारण न हो तो यह अर्थराइटिस का ही संकेत हो सकता है।
  • अगर जोड़ों और मांसपेशियों में दर्द के कारण आपको अपने रोजमर्रा के काम करने में परेशानी हो रही हो, तो एक बार आपको अर्थराइटिस की जांच करवा लेनी चाहिए।
  • अगर आपके जोड़ों में सूजन हो और वह छूने में दर्द हो रहा है तो यह भी गठिया का ही एक लक्षण है।
  • अगर किसी चीज को उठाते समय कमर में अधिक दर्द हो। कोई दवा लेने के बाद भी आराम नहीं है तो समझ लें कि यह गठिया का ही एक लक्षण है।
  • आपको अपनी बाजुओं और कमर में थोड़ी देर बैठे रहने के बाद ही दर्द का अहसास होने लगे। खासतौर पर सुबह नींद से उठने के बाद।
  • अचानक आपको जोड़ो में दर्द होने लगे।
India Tv Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Health News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन

More From Health