Live TV
  1. Home
  2. लाइफस्टाइल
  3. हेल्थ
  4. पैंक्रियाज कैंसर की पहचान करना है...

पैंक्रियाज कैंसर की पहचान करना है मुश्किल, जानिए लक्षण, कारण और कैसे करें बचाव

पैंक्रियाज यानी अग्नाशय में कैंसर के शुरुआती लक्षण को जानना बहुत ही मुश्किल होता है। इसके लक्षण इतने साधारण होते है कि इसमें हमारा ध्यान ही नहीं जाता है।  जानिए इसके लक्षण, कारण और बचाव

shivani singh
Edited by: shivani singh 10 Aug 2018, 9:59:21 IST

हेल्थ डेस्क: पैंक्रियाज यानी अग्नाशय में कैंसर के शुरुआती लक्षण को जानना बहुत ही मुश्किल होता है। इसके लक्षण इतने साधारण होते है कि इसमें हमारा ध्यान ही नहीं जाता है। कई बार ऐसा होता है कि इसके बारें में जानकारी न हो पाने के कारण जानलेवा साबित हो जाता है। पैंक्रियाज कैंसर बहुत ही तेजी से बढता है। इसका मुख्य कारण अनियमित खानपान और लाइफस्टाइल है। जानिए इसके बारें में सबकुछ।

महिलाओं के मुकाबले यह पुरुषों को अधिक होता है। इसका कारण स्मोकिंग करना भी हो सकता है। स्मोकिंग करने से इस कैंसर का खतरा 2-3 गुना बढ़ जाता है। (ये है कैंसर के सबसे खतरनाक संकेत, पुरुष भूलकर भी न करें इन्हें इग्नोर)

क्या है पैंक्रियाज कैंसर?

अग्‍नाशय मानव शरीर का बहुत ही महत्‍वपूर्ण अंग होता है, इसे पाचक ग्रंथि भी कहते हैं। पाचक ग्रंथि उदर के पीछे 6 इंच की लंबाई वाला अवयव होता है। मछली के आकार वाला अग्नाशय नर्म होता है। यह उदर में क्षितिज की समांतर दिशा में एक सिरे से दूसरे सिरे तक फैला होता है। इसका सिरा उदर की दायीं तरफ होता है, जहां उदर छोटी अंतड़ियों के पहले हिस्से से जुड़ा होता है। (सोनाली बेंद्रे को हुआ है मेटास्टैटिक कैंसर, जानिए इसके बारें में सबकुछ)

पैंक्रियाज कैंसर के लक्षण

इसे साइलेंट कैंसर के नाम से भी जाना जाता है। इसके लक्षण छिपे हुए होते है। जो आसानी से नजर नहीं आते है। जानिए कुछ लक्षणों के बारें में।

  • पेट के ऊपरी भाग में दर्द
  • आंख, स्किन और यूरिन का रंग पीला होना।
  • जी मिचलाना, भूख न लगना।
  • लगातार वजन कम होना।
  • अधिक कमजोरी, थकान महसूस होना।
  • तनाव में रहना।
  • खून के धब्बे पड़ना।

अगर इनमें से आपको कोई भी लक्षण दिखते है तो तुंरत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

पैंक्रियाज कैंसर के कारण

अभी तक इसके होने का क्या कारण है ये निकल कर नहीं आया है। लेकिन डॉक्टर्स के अनुसार अधिक स्मोकिंग करने से इसका खतरा बढ़ता है।

ऐसे पैंक्रियाज कैंसर से कर सकते है बचाव

स्मोकिंग करना करें बंद
अगर आप स्मोकिंग करते है, तो करना बंद कर दें। अपने डॉक्टर्स से मदद कि कैसे आप स्मोकिंग से छुटकारा पा सकते है।

वजन को करें कंट्रोल
अगर आप कुछ ज्यादा ही मोटे है तो अपने काम को थोड़ा मेनटेन करें। अगर आपको वजन कम करना है, तो सप्ताह में 1-2 पाउंड करें। इसके लिए एक्सरसाइज और अधिक मात्रा में सब्जियां, फल और अनाज का सेवन करें।

लें हेल्दी डाइट
खुद को फिट रखने के लिए हेल्दी डाइट बहुत ही जरुरी है। इसके लइए आप सब्जियों और फलों के साथ-साथ अधिक अनाज का सेवन करें। जिससे कि आप कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से बचे रहें। 

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी रीड करते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Health News in Hindi के लिए क्लिक करें khabarindiaTv का लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Web Title: Pancreatic cancer Symptoms causes and treatment and why it is difficult to diagnose pancreatic cancer in hindi: पैंक्रियाज कैंसर की पहचान करना है मुश्किल, जानिए लक्षण, कारण और कैसे करें बचाव