Live TV
GO
Hindi News लाइफस्टाइल हेल्थ रोजाना करें 'ड्रैगन फल' का सेवन...

रोजाना करें 'ड्रैगन फल' का सेवन और पाएं कैंसर, ब्लड शुगर सहित इन खतरनाक बीमारियों से दिलाएं निजात

ड्रैगन फल को सुपरफूड के रुप में जाना जाता है। जो लोग हेल्दी रखना चाहते है वह अपनी डाइट में इस फल को जरुर शामिल करें। इसे आप फ्रेश या फिर फ्रिज में भी रखकर यूज कर सकते है।

India TV Lifestyle Desk
India TV Lifestyle Desk 18 Apr 2019, 12:11:27 IST

Dragon Fruit Benefit: ड्रैगन फ्रूट को पिताया या स्ट्राबेरी पियर के नाम से भी जाना जाता है। यह गुलाबी रंग का फल होता है। कई बार ये कई रंग के भी होते है। इस फल को सुपरफूड के रुप में जाना जाता है। जो लोग हेल्दी रखना चाहते है वह अपनी डाइट में इस फल को जरुर शामिल करें। इसे आप फ्रेश या फिर फ्रिज में भी रखकर यूज कर सकते है।

ड्रैगन फ्रूट खाने के कई फायदें है। इसमें अधिक मात्रा में फाइबर के साथ-साथ फाइटोन्‍यूट्रिएंट्स, विटामिन्‍स, एंटीऑक्‍सीडेंट, विटामिन सी, पॉलीअनसेचुरेटेड फैटी एसिड, कैरोटीन और प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाया जाता है। जो कि आपको ब्लड शुगर, डायबिटीज, कैंसर, डेंगू या फिर पेट संबंधी समस्याओं से बचाता है। जानें इसके फायदों के बारें में।

डेंगू रोगियों के लिए फायदेमंद
डेंगू से पीड़ित लोगों की प्‍लेटलेट्स में गिरावट गंभीर रूप से दिखाई देती है। जिसकी समय से रिकवरी और इलाज न मिलने पर रोगी की मृत्‍यु भी हो सकती है। सामान्‍य तौर पर एक स्‍वस्‍थ व्‍यक्ति के रक्‍त के प्रत्‍येक माइक्रोलिट्रे के लिए 150,000-450,000 की प्‍लेटलेट गिनती होती है। जबकि डेंगू के रोगियों में प्‍लेटलेट्स 10,000 से कम भी हो सकती हैं। इन प्‍लेटलेट्स का काम रक्‍त वाहिकाओं की चोटों को रोककर रक्‍तस्‍त्राव को रोकना है। ड्रैगन फ्रूट डेंगू के मरीजों में प्लेटलेट काउंट बढ़ाने में मदद करता है, क्योंकि इसमें मजबूत एंटीऑक्सीडेंट गुण हैं। (PCOS के इन संकेतो को न करें इग्नोर और जड़ से पाएं इन नेचुरल तरीकों से निजात)

कोलेस्ट्राल को करें कम
ड्रैगर फ्रूट में बहुत ही कम मात्रा में कोलेस्ट्राल पाया जाता है। जो कि आपको इसको कंट्रोल करने में मदद करता है। इसके अलावा इसमें ओमेगा 3 और ओमेगा 6 भी पाया जाता है। जो कि आपके कोलेस्ट्राल को कम करने में मदद करता है।

Stomach pain

पेट संबंधी बीमारी
इसमें भरपूर मात्रा में फाइबर पाया जाता है। जो कि पाचन क्रिया तो ठीक रखने के साथ-साथ कब्ज के रोगियों को भी लाभ देता है। इसके अलावा यह फल इर्रिटेबल बाउल सिंड्रोम यानि आंतों का रोग। इसमें पेट दर्द, बेचैनी व मल त्‍यागने में परेशानी होती है। इसे स्‍पैस्टिक कोलन, इर्रिटेबल कोलन, म्‍यूकस कोइलटिस जैसे नामों से भी जाना जाता है।   (ये है दुनिया का सबसे ताकतवर सब्जी, लगातार 7 दिन करें सेवन और पाएं इन बीमारियों से निजात)

ब्लड शुगर को करें कंट्रोल
यह फल ब्लड शुगर तके मरीजों के लिए सबसे अच्छा है। इसका सेवन लगातार करने से यह शुगर को कंट्रोल रखता है। इसके साथ ही इसमें फाइबर पाया जाता है जो कि कि खाने के बाद अतिरिक्त चीनी को शरीर से दूर रखने में मदद करता है।

Heart Problem

हार्ट को रखें हेल्दी
इस फल में भरपूर मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट पाया जाचा है। जो कि धमनियों के कठोरता को कम करता है। जिससे हार्ट अटैक का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है।

इम्यूनिटी सिस्टम को रखें मजबूत
ड्रैगन फल में विटामिन सी के साथ-साथ नियासिन, विटामिन बी1, कैल्शियम, फासफोरस और आयरन  पाया जाता है। जो कि शरीर को बैक्‍टीरिया और रोगों से लड़ने की शक्ति प्रदान करता है। (दिखें ये लक्षण तो न करें इग्नोर, हो सकता है खतरनाक लिवर सिरोसिस)

cancer

कैंसर को रखें कोसो दूर
कई रिसर्च  के अनुसार, ड्रैगन फल में कैंसर कोशिकाओं के गुणन को रोकने की क्षमता है। यह फल विटामिन सी, कैरोटीन के अलावा लाइकोपीन नामक एंजाइम से समृद्ध होता है। जिसे एंटी-कार्सिनोजेनिक गुण कहा जाता है। यह एक साथ ट्यूमर को रोकने  में मदद करते हैं। ड्रैगन फ्रूट के छिलके पॉलीफेनोल्स रसायन से भरपूर होते हैं, जो कैंसर से बचा सकते हैं।

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Health News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन