Live TV
  1. Home
  2. लाइफस्टाइल
  3. हेल्थ
  4. कम उम्र के बच्चों में तेजी...

कम उम्र के बच्चों में तेजी से फैल रहा है ब्लड कैंसर, जानें लक्षण और इलाज

कम उम्र के बच्चे भी उसकी चपेट में तेजी से आ रहे है। जो कि जानलेवा बनता जा रहा है। शरीर में किसी भी अंग में कैंसर हो सकता है। जिसके कारण 100 से ज्यादा कैंसर की पहचान की जा चुकी है। जानिए इसके लक्षण और कैसे करें  डायग्नोसिस।

shivani singh
Written by: shivani singh 14 Aug 2018, 7:22:11 IST

हेल्थ डेस्क: कैंसर के मरीज दुनियाभर में तेजी से बढ़ रहे है। इसका मुख्य कारण खराब खानपान और खराब लाइफस्टाइल हो सकती है। लेकिन यह अनुवांशिक भी मानी जाती है। आपको यह बात जानकर हैरानी होगी कि कम उम्र के बच्चे भी उसकी चपेट में तेजी से आ रहे है। जो कि जानलेवा बनता जा रहा है। शरीर में किसी भी अंग में कैंसर हो सकता है। जिसके कारण 100 से ज्यादा कैंसर की पहचान की जा चुकी है। ज्यादातर केस ब्लड कैंसर के सामने आ रहे है। जो कि तेजी से ब्लड में फैलने वाला कैंसर है। इसके लक्षण को पहचानना थोड़ा सा मुश्किल है। लेकिन कुछ संकेतों को पहचान कर इसका समय में आप इलाज कर सकत है। जिससे कि यह जानलेवा साबित न हो।

क्या है ब्लड कैंसर

हमारे शरीर में एक बैनमैरो होता है। जिसमें सफेद सेल जिसे WBC नाम से भी जाना जाता है। जो कि हमारे शरीर को कई हजारों बीमारियों से बचाता है। अगर ये धीरे-धीरे कम हो जाएं या बढ़ जाएं और इनकी जगह ब्लड कैंसर के कण बढ़ जाएं, तो आपकी इम्यूनिटी सिस्टम जवाब दे जाती है। जो कि जानलेवा हो सकता है। (पैंक्रियाज कैंसर की पहचान करना है मुश्किल, जानिए लक्षण, कारण और कैसे करें बचाव )

एक स्वस्थ शरीर में सफेद रक्त पेशी(White Blodd Cell) स्वस्थ्य शरीर में 4 से 10 हजार के बीच होती है। वहीं अगर इसकी जगह कैंसरकारी WBC की संख्या बढ़ जाएं, तो वह कैंसर का कारण बनता है।

ब्लड कैंसर 3 प्रकार का होता है।
  • ल्यूकेमिया
  • लिंफोमा
  • मायलोमा
क्या होता है ल्यूकेमिया ब्लड कैंसर?

ल्‍यूकीमिया एक तरह के ब्लड कैंसर की शुरुआती स्टेज है। इसका इलाज आसानी से किया जा सकता है मगर तभी जब इस रोग के शुरुआत में ही इसका पता चल जाए। अगर ठीक समय से इलाज न किया जाए तो ये एक खतरनाक और जानलेवा रोग है। ल्‍यूकीमिया की सही समय पर जांच और चिकित्सा आपको कैंसर से बचा सकती है। (स्किन में दिखें ये बदलाव तो आपको है स्किन कैंसर का ये घातक रुप, जानें इसके लक्षण और बचाव )

ल्यूकेमिया है खतरनाक

आपको बता दें कि ल्यूकेमिया सीधे आपके ब्लड को प्रभावित करता है। इसके लक्षणों को आसानी से पहचाना जाता है। ल्यूकेमिया का इलाज अगर समय में नहीं करवाते है तो पीड़ित व्यक्ति का जीवन सिर्फ 4 साल होता है। हालांकि यह मरीज की उम्र, प्रतिरोधक क्षणत औप ल्यूकीमिया के टाइप पर निर्भर भी करता है। जिसके कारण इसका इलाज इसके टाइप के अनुसार किया जाता है।

ल्यूकेमिया ब्लड कैंसर के लक्षण
  • दौरा पड़ना या किसी चीज के होने का बार-बार भ्रम होना। यानी कई बार रोगी मानसिक रूप से परेशान रहने लगता है।
  • उल्टियां आने का अहसास होना या असमय उल्टियां होना।
  • त्वचा में जगह-जगह रैशेज की शिकायत होना।
  • ग्रंथियों/ग्लैंड्स का सूज जाना।
  • अचानक से बिना कारणों के असामान्य रूप से वजन का कम होना। (ये है कैंसर के सबसे खतरनाक संकेत, पुरुष भूलकर भी न करें इन्हें इग्नोर )
  • जबड़ों में सूजन आना या फिर रक्‍त का बहना।
  • भूख ना लगने की समस्या होना।
  • यदि चोट लगी है तो चोट का निशान पड़ जाना।
  • किसी घाव या जख्म के भरने में अधिक समय लग
  • बार-बार एक ही तरह का संक्रमण होना।
  • बहुत तेज बुखार होना।
  • रोगी का इम्यून सिस्टम कमजोर होना।
  • हर समय थकान और कमजोरी महसूस करना।
  • एनीमिया होना।
  • नाक-मसूड़ों इत्यादि से खून बहने की शिकायत होना।
  • प्लेटलेट्स का गिरना।
अधिक लक्षण जानने के लिए देखें वीडियो

ल्यूकेमिया की ऐसी हो सकती है पहचान

ब्लड टेस्ट
काफी हद तक इसकी पहचान ब्लड टेस्ट से हो सकती है। जिसमें आपको WBC देखने पड़ेगा।

बोन मैरो टेस्ट
अगर ब्लड टेस्ट के टेस्ट में WBC कम होते है या फिर ज्यादा होते है। जो फिर बोन मैरो टेस्ट किया जाता है। इसमें पेडू से हड्डी पानी निकालकर इसका टेस्ट किया जाता है। जो कि थोड़ा दर्द वाला होता है। इससे पूर्ण रुप से सटिक आता है कि ब्लड कैंसर है कि नहीं।

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी रीड करते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Health News in Hindi के लिए क्लिक करें khabarindiaTv का लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Web Title: Children are at high risk of blood cancer know its symptoms sign causes diagnosis and treatment in hindi