Live TV
GO
Hindi News भारत उत्तर प्रदेश UP इंवेस्टर्स समिट का समापन, राष्ट्रपति...

UP इंवेस्टर्स समिट का समापन, राष्ट्रपति कोविंद ने कहा, 'UP का विकास ही देश को आगे ले जाएगा'

उत्तर प्रदेश की राजधानी में दो दिवसीय इंवेस्टर्स समिट का गुरुवार को समापन करने के बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं उनकी सरकार के प्रयास की सराहना करते हुए कहा कि उप्र का विकास ही देश को आगे लेकर जाएगा।

IndiaTV Hindi Desk
IndiaTV Hindi Desk 22 Feb 2018, 21:13:33 IST

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी में दो दिवसीय इंवेस्टर्स समिट का गुरुवार को समापन करने के बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं उनकी सरकार के प्रयास की सराहना करते हुए कहा कि उप्र का विकास ही देश को आगे लेकर जाएगा। उप्र की श्रमशक्ति देश में सबसे अधिक है, इसलिए सबकी निगाहें यहीं टिकी हुई हैं। कोविंद ने कहा, "उप्र की धरती ने नौ प्रधानमंत्री दिए हैं, जिन्होंने देश को नई दिशा दिखाई है। उप्र के पास जल, जमीन और मानव संसाधन बड़ी मात्रा में है। निवेशकों को इसका लाभ उठाना चाहिए। मैं भी इसी पवित्र भूमि में जन्मा हूं। यहां की धरती को और समृद्धशाली बनाने की जरूरत है।"

उन्होंने कहा कि उप्र में देश ही नहीं विदेशों से निवेशक पहुंचे हैं। यहां पर दो दिनों में चार लाख 28 हजार करोड़ रुपये का निवेश आया है। यह इस समिट की सफलता को बयां करता है। यहां मॉरिशस, जापान, नीदरलैंड, थाईलैंड से भी प्रतिनिधि पहुंचे हुए हैं। वे भी उप्र को आगे ले जाने में अपना सहयोग कर रहे हैं, यह काफी बड़ी बात है। राष्ट्रपति ने कहा, "हमें बताया गया है कि इस समिट के आयोजन से पहले कई राज्यों में रोड शो का आयोजन किया गया। इससे निवेश को लेकर एक बेहतर माहौल बना और इतने बड़े पैमाने पर निवेशक यहां पहुंचे। इससे सरकार जनता का विश्वास जीतने में कामयाब होगी।"

उन्होंने कहा कि उप्र सरकार ने एक जनपद, एक उत्पाद योजना शुरू की है। इसे लेकर भी काफी अच्छी प्रतिक्रिया मिली है। यहां हर जिले का अपना अलग महत्व है। यहां की सरकार ने 20 लाख लोगों को रोजगार देने का लक्ष्य रखा है, जो हासिल किया जा सकता है। इससे पहले, राष्ट्रपति ने समिट-2018 का समापन किया। उन्होंने कहा कि उप्र के पास देश की सबसे बड़ी युवा शक्ति है, इसीलिए यहां निवेशकों के लिए भी अपार संभावनाएं मौजूद हैं। 

सरकार के दावे के मुताबिक, लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित दो दिवसीय इंवेस्टर्स समिट में चार हजार 28 लाख करोड़ रुपये के एमओयू हुए हैं। इस मौके पर उप्र के राज्यपाल राम नाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली और मॉरिशस के रक्षामंत्री अनिरुद्ध जगन्नाथ भी मौजूद थे। 

कोविंद ने कहा, "उप्र की सरकार ने एक सफल कार्यक्रम का आयोजन किया है, इसीलिए वह बधाई की पात्र है। समिट का आयोजन एक बात होती है, और एक सफल समिट का आयोजन करना बहुत बड़ी बात होती है। इस कार्यक्रम पर पूरे देश की नजरें गड़ी हुई थीं।"उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में 'देश की अर्थव्यवस्था को जो शक्ति मिली है' उसी का परिणाम है कि उप्र में निवेश करने का एक अच्छा अवसर निवेशकों को मिला है। बड़े-बड़े कारोबारियों की जुटान वाले इस निवेशक सम्मेलन में बैंकिंग महाघोटाले पर किसी महानुभाव ने एक शब्द भी बोलने की जहमत नहीं उठाई। 

India Tv Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन