Live TV
GO
Hindi News भारत उत्तर प्रदेश जयंत-अखिलेश की मुलाकात, RLD के लिए...

जयंत-अखिलेश की मुलाकात, RLD के लिए निकलेगा 4 सीटों का फॉर्मूला

आरएलडी ने पांच सीटों की डिमांड की है जबकि मायावती ने सहयोगियों के लिए दो सीट छोड़ी है। ऐसे में खबर ये है कि जयंत चौधरी और अखिलेश की मुलाकात में तीन सीटों पर बात बन गई है। एसपी अपने कोटे की एक सीट आरएलडी को दे सकती है।

IndiaTV Hindi Desk
IndiaTV Hindi Desk 16 Jan 2019, 13:14:07 IST

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में एसपी और बीएसपी के गठबंधन के बाद अब आज राष्ट्रीय लोक दल के नेता जयंत चौधरी अखिलेश यादव से मुलाकात करेंगे। दोनों के बीच आज करीब एक घंटे तक मुलाकात चली। माना जा रहा है कि इस मुलाकात में आरएलडी को दी जाने वाली सीटों के फॉर्मूले पर बात हुई। आरएलडी ने पांच सीटों की डिमांड की है जबकि मायावती ने सहयोगियों के लिए दो सीट छोड़ी है। ऐसे में खबर ये है कि जयंत चौधरी और अखिलेश की मुलाकात में तीन सीटों पर बात बन गई है। एसपी अपने कोटे की एक सीट आरएलडी को दे सकती है। इसके अलावा बुलंदशहर, अमरोहा या हाथरस में किसी एक सीट पर एसपी के टिकट पर आरएलडी का उम्मीदवार लड़ सकता है।

अखिलेश और जयंत की ये दूसरी मुलाकात थी। मायावती और अखिलेश ऐलान कर चुके हैं कि वो यूपी की 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे। 2 सीट कांग्रेस के लिए छोड़ दी हैं और 2 ही सीट अब बची हैं। इन्ही 2 सीटों से जयंत का रास्ता खुलता है। दरअसल आरएलडी इस गठबंधन का हिस्सा बनना चाहती है लेकिन अजीत सिंह को मायावती केवल 2 सीट देना चाहती है जबकि जयंत चौधरी RLD के लिए 5 सीट मांग रहे हैं।

Related Stories

खबरों के मुताबिक जयंत चौधरी ने अखिलेश यादव से कहा है कि अगर उनको कम से कम चार सीटें नहीं मिलीं तो इलेक्शन कमीशन में उनकी पार्टी की मान्यता को खतरा हो सकता है इसलिए अब बीच का फार्मूला निकाला गया है। इस फॉर्मूले के मुतबिक बागपत, मुजफ्फरनगर और मथुरा आरएलडी को मिलेगी। 

आरएलडी को 1 सीट समाजवादी पार्टी अपने कोटे से देगी। इस सीट पर उम्मीदवार समाजवादी पार्टी का ही होगा। बुलंदशहर, हाथरस या अमरोहा में से कोई एक सीट पर आरएलडी के चुनाव चिन्ह पर एसपी उम्मीदवार लड़ेगा। आपसी सीटें अभी भले ही तय न हुई हों लेकिन आरएलडी के नेता दावा कर रहे हैं कि मोदी को हराने के लिए वो किसी भी कीमत पर गठबंधन करने के लिए तैयार हैं।

India Tv Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

More From Uttar Pradesh