Live TV
GO
  1. Home
  2. भारत
  3. उत्तर प्रदेश
  4. बुलंदशहर: अपनी ही पिस्‍टल की गोली...

बुलंदशहर: अपनी ही पिस्‍टल की गोली से इंस्‍पेक्‍टर की मौत होने का शक, सुबोध कुमार की बहन ने पुलिस पर ही लगाया आरोप

बुलंदशहर की चिंगरावठी चौकी में हुए हिंसक उपद्रव में शहीद पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार को आज राजकीय सम्मान के साथ श्रद्धांजलि दी गई।

IndiaTV Hindi Desk
Written by: IndiaTV Hindi Desk 04 Dec 2018, 13:39:32 IST

बुलंदशहर की चिंगरावठी चौकी में हुए हिंसक उपद्रव में पुलिस के हाथ अहम सबूत लगे हैं। पुलिस को शक है कि इंस्‍पेक्‍टर सुबोध कुमार की हत्‍या उन्‍हीं की सरकारी पिस्‍टल से की गई है। सूत्रों के मुताबिक सुबोध कुमार की सर्विस पिस्‍टल गायब है। माना जा रहा है कि उनकी हत्‍या कर हत्‍यारा पिस्‍टल को साथ ले गया। इसके साथ ही भीड़ ने सरकारी वायरलैस सेट को नुकसान पहुंचाया है। वहीं तीन मोबाइल भी गायब बताए जा रहे हैं। वहीं दूसरी ओर मृतक इंस्‍पेक्‍टर की बहन ने पुलिस पर ही उनके भाई की हत्‍या का आरोप लगाया है। सुबोध कुमार की बहन के मुताबिक उनका भाई दादरी में हुए अखलाख मर्डर केस की जांच से जुड़े थे। इसी के चलते पुलिस ने ही उनकी हत्‍या करवाई है। 

इस बीच हिंसा मामले में पुलिस ने 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज की है। एफआईआर में योगेश राज का नाम सामने आया है। बताया गया है कि पूरी घटना का मास्‍टरमाइंड योगेश राज था और उसी के नेतृत्‍व में भीड़ जमा हुई। इस बीच एडीजी इंटेलीजेंस एसके शिरोडकर अपनी टीम के साथ महाव पहुंचे। हर खेत का मुआयना कर रहे हैं जहां गौ अंश मिले थे। इससे पहले आज सुबह शहीद पुलिस इंस्‍पेक्‍टर सुबोध कुमार को राजकीय सम्‍मान के साथ श्रद्धांजलि दी गई। मंगलवार को वरिष्‍ठ पुलिस अधिकारियों की मौजूदगी में पुलिस कर्मियों ने दिवंगत सुबोध कुमार को सलामी दी।  

बता दें कि सोमवार को बुलंदशहर के स्‍याना थानांतर्गत एक खेत में गोवंश के अवशेष मिलने से तनाव बढ़ गया। जिसके बाद उपद्रवी भीड़ ने चिंगरावठी चौकी को घेर कर पत्‍थरों और गोलियों से हमला किया। जिसमें एसएचओ सुबोध कुमार और एक राहगीर की मौत हो गई। घटना में करीब डेढ़ दर्जन पुलिस कर्मी घायल भी हुए। 

प्रदेश सरकार ने इस मामले की जांच एडीजी इंटेलीजेंस को सौंपी है जो 48 घंटे के अंदर रिपोर्ट देंगे इसके साथ ही मेरठ रेंज के महानिरीक्षक की अध्यक्षता में एक एसआईटी का भी गठन किया है। मुख्यमंत्री ने इस पूरे मामले पर दुख व्यक्त किया है। साथ ही हिंसा में मारे गए इंस्पेक्टर सुबोध कुमार को सरकार की तरफ से 50 लाख मुआवजा देने का ऐलान किया गया है। दबिश के लिए पुलिस की 6 टीमें गठित की गई हैं। 

4 लोग गिरफ्तार, गोकशी मामले में भी एफआईआर दर्ज 

मेरठ जोन के एडीजी प्रशांत कुमार ने बताया कि इस घटना के बाद 4 लोगों को हिरासत में ले लिया गया गया है। इंस्पेक्टर की हत्या, बलवे में 27 लोगों को नामजद किया गया है। वहीं 50-60 अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।दूसरी ओर गोकशी मामले में भी एफआईआर दर्ज की गई है। इसमें 7 लोगों को आरोपी बनाया गया है। इसके साथ ही एक एसआईटी का भी गठन किया गया है जो यह जांच करेगी कि इंस्‍पेक्‍टर सुबोध कुमार को साथी पुलिस कर्मियों ने क्‍यों और किन परिस्थितियों में अकेला छोड़ा। 

योगेश था मास्‍टरमाइंड!

योगेश राज बजरंग दल संयोजक है। पुलिस के मुताबिक योगेश ही मौके पर प्रोटेस्ट को लीड कर रहा था। इसीलिए उसे प्रमुख आरोपी बनाया गया है। पुलिस के पास ये भी जानकारी है कि भीड़ में घुस कर कुछ लोगों ने माहौल बिगाड़ा है, कौन है ये लोग यही जांच हो रही है। फिलहाल पुलिस नेे योगेश के भाई और चाचा देवेंद्र और चमन सहित एक अन्‍य आरोपी आशीष चौहान को गिरफ्तार किया है। वहीं योगेश राज के लिए पुलिस विभिन्‍न स्‍थानों पर दबिश डाल रही है। 

किसी संगठन का सामने नहीं आया नाम

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर आनंद कुमार ने एक प्रेसकॉन्‍फ्रेंस में बताया कि अभी तक इस मामले में किसी भी संगठन का नाम नहीं आया है। इस मामले में एसआईटी का गठन कर दिया गया है जो निष्‍पक्ष रूप से जांच करेगी। उन्‍होंने बताया कि मुख्‍य अभियुक्‍त योगेश राज की तलाशी में जगह जगह छापेमारी की जा रही है। वहीं मृतक इंस्‍पेक्‍टर के परिवार की शिकायत भी दूर करने का प्रयास किया जा रहा है। उन्‍होंने बताया कि प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि फायरिंग की शुरुआत गांव वालों की ओर से हुई। उन्‍होंने बताया कि सुबोध कुमार को पहले पत्‍थर लगा, फिर गोली लगी थी। एक अन्‍य मृतक सुमित की मौत के बारे में एडीजी ने बताया कि उसके शरीर से गोली मिली है। उसे जांच के लिए भेज दिया गया है। जांच के बाद पता चलेगा उसे कौन सी गोली लगी।

पिस्‍टल की गोली लगने का शक 

पुलिस को शक है कि इंस्‍पेक्‍टर सुबोध कुमार की हत्‍या उन्‍हीं की सरकारी पिस्‍टल से की गई है। सूत्रों के मुताबिक सुबोध कुमार की सर्विस पिस्‍टल गायब है। माना जा रहा है कि उनकी हत्‍या कर हत्‍यारा पिस्‍टल को साथ ले गया। इसके साथ ही भीड़ ने सरकारी वायरलैस सेट को नुकसान पहुंचाया है। वहीं तीन मोबाइल भी गायब बताए जा रहे हैं। 

बहन ने पुलिस पर ही लगाया आरोप 

मृतक इंस्‍पेक्‍टर की बहन ने पुलिस पर ही उनके भाई की हत्‍या का आरोप लगाया है। सुबोध कुमार की बहन के मुताबिक उनका भाई दादरी में हुए अखलाख मर्डर केस की जांच से जुड़े थे। इसी के चलते पुलिस ने ही उनकी हत्‍या करवाई है। 

पोस्‍टमार्टम में गोली लगने का खुलासा 

एडीजी कानून व्यवस्था आनंद कुमार ने लखनऊ में सोमवार को बताया कि इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की पोस्टमार्टम रिपोर्ट से जानकारी मिली है कि बाई आँख के ऊपर गोली लगी है, इसके अलावा सर पर भी किसी भारी चीज़ की चोट के निशान पाए गए हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को बुलन्दशहर में हुई हिंसा में एक पुलिस इंस्पेक्टर समेत दो लोगों की मौत पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए दो दिन के अंदर मामले की जांच कर रिपोर्ट देने के आदेश दिये। बुलंदशहर में हुई घटना में पांच पुलिस कर्मी तथा करीब आधा दर्जन आम लोगों को भी मामूली चोटें आई है। भीड़ की हिंसा में कई गाड़ियों को भी नुकसान पहुंचाया गया है तथा तीन कारों को आग लगा दी गई। बताया जा रहा है कि इस हिंसा में तीन गांव के करीब चार सौ लोग शामिल है।

क्‍या है मामला 

रिपोर्ट के मुताबिक थाना कोतवाली क्षेत्र के गांव महाव के जंगल में रविवार की रात अज्ञात लोगों ने कथित तौर पर करीब 25-30 गोवंश काट डाले थे। यह सूचना मिलने पर लोगों में आक्रोश फैल गया। गुस्साए लोग घटनास्थल पर पहुंचे और कथित तौर पर काटे गए गोवंश के गोवंश अवशेषों को ट्रैक्टर ट्रॉली में भरकर सोमवार सुबह चिंगरावठी पुलिस चौकी पर पहुंचे। सूत्रों के अनुसार गुस्साई भीड़ ने बुलंदशहर-गढ़ स्टेट हाईवे पर ट्रैक्टर ट्रॉली लगाकर रास्ता जाम कर दिया और पुलिस प्रशासन के खिलाफ जोरदार नारेबाजी शुरू कर दी। सूचना मिलने पर एसडीएम अविनाश कुमार मौर्य और सीओ एसपी शर्मा पहुंचे। इसके बाद लोगों का गुस्सा भड़क गया और उन्होंने पुलिस पर पथराव करना शुरू कर दिया। बेकाबू भीड़ ने पुलिस के कई वाहन फूंक दिए। साथ ही चिंगरावठी पुलिस चौकी में आग लगा दी। 

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: bulandshahr violence uttar pradesh police illegal slaughter Inspecter Subodh Kumar latest-updates | बुलंदशहर: इंस्‍पेक्‍टर सुबोध कुमार को दी गई सलामी, पुलिस ने हिंसा मामले में दो लोगों को किया गिरफ्तार