Live TV
GO
  1. Home
  2. भारत
  3. उत्तर प्रदेश
  4. बुलंदशहर हिंसा मामले में आरोपी फौजी...

बुलंदशहर हिंसा मामले में आरोपी फौजी गिरफ्तार, 15 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा गया

बुलंदशहर में पिछले हफ्ते हुई हिंसा के मामले में एसटीएफ को बड़ी सफलता मिली है। आरोपी जीतू उर्फ फौजी को आर्मी ने यूपी STF के किया हवाले कर दिया है।

India TV News Desk
Edited by: India TV News Desk 09 Dec 2018, 20:26:31 IST

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में पिछले दिनों हुई हिंसा में एक पुलिस इंस्पेक्टर की हत्या किए जाने के मामले में आरोपी सैनिक को गिरफ्तार कर लिया गया है। उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) के महानिरीक्षक अमिताभ यश ने बताया कि बुलंदशहर में इंस्पेक्टर सुबोध सिंह की हत्या के मामले में आरोपी जितेंद्र मलिक उर्फ जीतू फौजी को सेना ने शनिवार देर रात मेरठ में एसटीएफ को सौंप दिया।

जितेंद्र को न्यायिक मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया जहां से उसे 14 दिन की हिरासत में जेल भेज दिया गया। जितेंद्र से क्राइम ब्रांच ने पूछताछ की। इसके अलावा प्रदेश सरकार द्वारा इस घटना की जांच के लिए गठित विशेष जांच दल ने भी गिरफ्तार आरोपी से पूछ पड़ताल की। जितेंद्र को जिला अस्पताल में चिकित्सीय परीक्षण के बाद मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया।

इस बीच, प्रदेश सरकार ने बुलंदशहर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के. बी. सिंह को हटाने के बाद वहां के अपर पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) रईस अख्तर को हटाकर लखनऊ पीएसी मुख्यालय भेज दिया है। उनके स्थान पर गाजियाबाद में पुलिस नियंत्रण कक्ष में तैनात रहे मनीष मिश्र को भेजा गया है। मालूम हो कि गत 3 दिसंबर को स्याना कोतवाली क्षेत्र के चिंगरावठी इलाके में कथित गोकशी के मामले को लेकर भीड़ से संघर्ष में इंस्पेक्टर सुबोध सिंह शहीद हो गए थे। इसके अलावा सुमित नामक एक युवक की भी मृत्यु हो गई थी। इस मामले में जितेंद्र समेत 27 नामजद तथा 50-60 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। इनमें से अब तक 10 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है।

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: Bulandshahr violence UP STF Jeetu Fauji Arrest latest updates Subodh Kumar Singh | बुलंदशहर हिंसा मामले में आरोपी फौजी गिरफ्तार, 15 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा गया