Live TV
GO
  1. Home
  2. भारत
  3. उत्तर प्रदेश
  4. यूपी: रिटायर्ड कर्नल से मारपीट मामले...

यूपी: रिटायर्ड कर्नल से मारपीट मामले में पुलिस के 2 सिपाही गिरफ्तार, 5 आरोपी फरार

रिटायर्ड कर्नल ने DM को जेल से पत्र लिख आरोप लगाया कि उन्हें हरिजन ऐक्ट के झूठे मुकदमे में फंसाया जा रहा है

Bhasha
Reported by: Bhasha 19 Aug 2018, 14:54:43 IST

नोएडा: रिटायर्ड कर्नल वीरेंद्र सिंह चौहान के साथ 14 अगस्त को कथित मार पीट करने के मामले में उत्तर प्रदेश पुलिस के सिपाही राहुल नागर और जितेंद्र अवस्थी को गिरफ्तार किया गया है। इस मामले में 5 आरोपी फरार हैं जिनकी तलाश की जा रही है। SSP (गौतम बुद्ध नगर) डॉक्टर अजय पाल शर्मा ने बताया कि 14 अगस्त को सेक्टर 29 में रहने वाले रिटायर्ड कर्नल वीरेंद्र सिंह चौहान (75 वर्ष) के खिलाफ उनकी पड़ोसी महिला ने मारपीट, छेड़छाड़ तथा हरिजन उत्पीड़न कानून के तहत मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस ने कर्नल वीरेंद्र चौहान और उनके साथियों को गिरफ्तार कर लिया था।

जेल से कर्नल ने डीएम को लिखी चिट्ठी
SSP ने बताया कि 17 अगस्त को कर्नल चौहान ने जेल से जिलाधिकारी को एक पत्र लिखा। पत्र में उन्होंने बताया कि महिला जनपद, मुजफ्फरनगर में तैनात अपर जिलाधिकारी की पत्नी हैं और उनके प्रभाव में ही कर्नल के खिलाफ झूठा मुकदमा दर्ज कराया गया। SSP ने बताया कि पूर्व सैनिकों ने भी जिलाधिकारी से मिलकर एक CCTV फुटेज उपलब्ध कराया, जिसमें आरोपी एडीएम अपने साथियों के संग मिलकर कर्नल से कथित तौर पर मारपीट करते नजर आ रहे हैं। 

डीएम के आदेश के बाद मामला हुआ दर्ज
उन्होंने बताया कि डीएम के आदेश के बाद शनिवार को इस मामले में एडीएम (नाम इसलिए नहीं दिया गया क्योंकि उनकी पत्नी ने रिटायर्ड कर्नल पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया है), उनकी पत्नी, उनके बेटे और उनके गनर राहुल नागर, रोहित गुजराल, प्रशांत नागर, जितेंद्र अवस्थी के खिलाफ हत्या के प्रयास, मारपीट कर जान से मारने की धमकी देने सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया। उन्होंने बताया कि पुलिस ने जितेंद्र अवस्थी और राहुल नागर को गिरफ्तार कर लिया है। शेष आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास जारी हैं।

कर्नल ने लगाए ये गंभीर आरोप
कर्नल चौहान का कहना है कि उनके पड़ोस में रहने वाले आरोपी एडीएम अपने घर पर अवैध निर्माण करा रहे थे जिसकी शिकायत उन्होंने नोएडा प्राधिकरण में की थी। कर्नल चौहान का आरोप है कि यह एडीएम पूर्व में नोएडा प्राधिकरण में तैनात रह चुके हैं इसलिए उनकी शिकायत पर कार्रवाई नहीं की गई। शिकायत के बाद आरोपी एडीएम खासे नाराज भी हो गए। कर्नल चौहान का आरोप है कि एडीएम ने घटना वाले दिन सुनियोजित तरीके से उन पर हमला किया, तथा दलित और प्रशासनिक अफसर होने का फायदा उठाते हुए उनके खिलाफ मुकदमा भी दर्ज करा दिया।

हथकड़ी लगाकर कर्नल को अदालत में पेश किया
गौतम बुद्ध नगर के जिलाधिकारी बीएन सिंह ने SDM सदर को जांच सौंपी है। एकतरफा कारवाई करने के आरोप में पुलिस उपाधीक्षक (नगर प्रथम) अनित कुमार और तत्कालीन थाना प्रभारी मनीष सक्सेना का तबादला कर दिया गया है। सेक्टर 29 के चौकी प्रभारी को कल निलंबित कर दिया गया। कर्नल चौहान को पुलिस ने चोरी के मामले में पकड़े गए एक चोर के साथ हथकड़ी लगाकर 14 अगस्त को अदालत में पेश किया था। कल बड़ी संख्या में पूर्व सैनिकों तथा शहर के लोगों ने, कर्नल को हथकड़ी लगाकर अदालत में पेश करने तथा उन्हें फर्जी मुकदमे में फंसाने के विरोध में नोएडा में पैदल मार्च निकाला। उनकी मांग है कि पुलिस के अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उन्हें बर्खास्त किया जाए।

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: ADM, wife and son are booked for assaulting retired Army colonel in Noida