Live TV
GO
  1. Home
  2. भारत
  3. राजनीति
  4. प्रणब मुखर्जी के RSS का न्योता...

प्रणब मुखर्जी के RSS का न्योता स्वीकार करने के मामले में नितिन गडकरी ने दिया यह बयान

कार्यक्रम 7 जून को होना है। आरएसएस के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने कल कहा था कि मुखर्जी ने आमंत्रण स्वीकार कर लिया है...

India TV News Desk
Edited by: India TV News Desk 29 May 2018, 18:50:25 IST

मुंबई: केन्द्रीय मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता नितिन गडकरी ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के एक कार्यक्रम में शामिल होने का न्योता स्वीकारने के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निर्णय का आज स्वागत किया और इसे अच्छी शुरुआत बताया साथ ही कहा कि ‘‘राजनीतिक छुआछूत’’ अच्छी बात नहीं है।

नागपुर से लोकसभा सांसद गडकरी ने कहा कि आरएसएस पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई का नहीं बल्कि राष्ट्रवादियों का संगठन है। मुखर्जी को राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के स्वयंसेवकों के प्रशिक्षण कैंप- संघ शिक्षा वर्ग के कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर आमंत्रित किया गया है।

कार्यक्रम 7 जून को होना है। आरएसएस के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने कल कहा था कि मुखर्जी ने आमंत्रण स्वीकार कर लिया है।

पूर्व राष्ट्रपति द्वारा आरएसएस का न्योता स्वीकार करने पर कांग्रेस की कथित आपत्तियों के बारे में पूछे जाने पर गडकरी ने कहा, ‘‘मुखर्जी का न्योता स्वीकार करना एक अच्छी शुरूआत है। राजनीतिक छुआछूत अच्छी बात नहीं है।’’

मुखर्जी के निर्णय पर यूं तो कांग्रेस की ओर से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है लेकिन पार्टी के कई नेताओं ने इस पर आश्चर्य जताया है।

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: आरएसएस राष्ट्रवादियों का संगठन, पाकिस्तान के आईएसआई का नहीं: गडकरी RSS organisation of nationalists, not Pakistan's ISI: Gadkari on Pranab accepting invite