Live TV
GO
  1. Home
  2. भारत
  3. राजनीति
  4. अगले साल के अंत तक गंगा...

अगले साल के अंत तक गंगा प्रदूषण मुक्त होगी, नहीं हुआ तो सजा के लिए तैयार: आप की अदालत में नितिन गडकरी

केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा मोदी सरकार पर लगाए गए आरोपों का करारा जवाब दिया है।

IndiaTV Hindi Desk
Written by: IndiaTV Hindi Desk 29 Sep 2018, 13:10:53 IST

नई दिल्ली: केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने लोकप्रिय शो ‘आप की अदालत’ में इंडिया टीवी के चेयरमैन एवं एडिटर इन चीफ रजत शर्मा के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि अगले साल के अंत तक गंगा प्रदूषण मुक्त हो जाएगी और यदी ऐसा नहीं हुआ तो में सजा के लिए तैयार हूं। आप की अदालत में गडकरी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा मोदी सरकार पर लगाए गए आरोपों का करारा जवाब भी दिया। उन्होंने कहा कि इस तरह के आरोपों से राहुल मोदी या भाजपा का नहीं, बल्कि अपनी ही पार्टी का नुकसान कर रहे हैं। उद्योगपतियों की कर्ज माफी के राहुल के आरोपों पर गडकरी ने कांग्रेस अध्यक्ष से पूछा कि जब इन्हें लोन दिया जा रहा था तब प्रधानमंत्री किस पार्टी के थे।

रजत शर्मा ने जब गडकरी से पूछा कि इस बात में कितनी सच्चाई है कि आपकी सरकार ने किसानों के कर्जे तो माफ नहीं किए, उद्योगपतियों का 2.5 लाख करोड़ रुपये का कर्जा माफ कर दिया, गडकरी ने कहा, ‘राहुल गांधी इस बात का जवाब दें कि जब ये लोन दिए गए तब किसकी सरकार थी और अर्थ मंत्री किसके थे? क्या ये लोन हमारी सरकार ने दिए हैं?’  इसके बाद राहुल द्वारा प्रधानमंत्री को चोर कहने के आरोपों पर गडकरी ने कहा, ‘जिस प्रकार की ये बचकानी बातें कर रहे हैं इससे भाजपा या मोदी जी को कोई नुकसान नहीं होगा।’ 

केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा, ‘इन आरोपों से राहुल गांधी सबसे ज्यादा किसी का नुकसान कर रहे हैं तो कांग्रेस पार्टी का कर रहे हैं, कांग्रेस के कार्यकर्ताओं और नेताओं का कर रहे हैं। वह कांग्रेस के भविष्य को खराब कर रहे हैं।’

‘आप की अदालत’ में नितिन गडकरी से सवालों-जवाबों का यह सिलसिला आप शनिवार रात 10 बजे इंडिया टीवी पर देख सकते हैं।

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: Nitin Gadkari in Aap Ki Adalat: Watch, Union minister’s reply on accusations of Rahul Gandhi